डलहौज़ी हलचल (शिमला ) :- ललित कलाओं के विभिन्न आयामों के तहत चित्रकला में रेखाओं व रंगों के माध्यम से भावों की अभिव्यक्ति अत्यंत प्रभावशाली है। शिक्षा, विधि एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने गेयटी थिएटर में भूतपूर्व राजकीय कन्या महाविद्यालय छात्र संघ द्वारा आयोजित पेंटिंग प्रदर्शनी के अवलोकन करने के पश्चात यह विचार व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि राजकीय कन्या महाविद्यालय शिमला की छात्रा जमना गुरुंग द्वारा बनाई गई चित्रकला को विविध रंगों में उकेरा गया है, जोकि अत्यंत सराहनीय है।

????????????????????????????????????

उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में शिक्षक विद्यार्थियों में कला पक्ष को और अधिक निखारने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की तरफ से कला एवं कलाकार को प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है। उन्होंने युवा कलाकारों को पेंटिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ने के प्रति प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ कला व अन्य रूचिपूर्ण कार्यों में हिस्सा लेकर हम इसे व्यवसाय के रूप में अपनाने के लिए प्रयास करें। उन्होंने कलाकारों को अपनी रचनात्मकता को सकारात्मक रूप में व्यक्त करने का आह्वान किया, जिससे अपना, प्रदेश व देश का नाम ऊंचा हो सके।

उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश में चित्रकला के क्षेत्र में एक फाइन आर्ट काॅलेज खोला गया है इसके साथ साथ राजकीय कन्या महाविद्यालय में भी पेंटिंग विषय पढ़ाया जाता है, जिससे यहां के विद्यार्थियों को चित्रकला के क्षेत्र में आगे बढ़ने का अवसर मिलता है।

उन्होंने बताया कि भूतपूर्व राजकीय कन्या महाविद्यालय छात्र संघ द्वारा आयोजित यह प्रदर्शनी प्रदेश के विद्यार्थियों को कला क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है।

इस अवसर पर राजकीय कन्या महाविद्यालय प्रधानाचार्य डाॅ. नविंदू शर्मा, संघ अध्यक्ष डाॅ. मीरा सिंह, संघ सचिव डाॅ. वंदना शर्मा, राजकीय कन्या महाविद्यालय के विभिन्न अध्यापक गण व बच्चे उपस्थित थे।