Top
मनोरंजन

हिमसिने सोसाइटी एक सोच एवं भारतीय चित्र साधना के संयुक्त तत्वावधान में लघु मोबाइल फिल्म निर्माण प्रतियोगिता का आयोजन

ManMahesh
12 Jan 2021 10:32 AM GMT
हिमसिने  सोसाइटी एक सोच  एवं  भारतीय चित्र साधना के संयुक्त तत्वावधान में   लघु  मोबाइल  फिल्म  निर्माण प्रतियोगिता  का आयोजन
x
हिमसिने सोसाइटी एक सोच एवं भारतीय चित्र साधना के संयुक्त तत्वावधान में पिछले दिनों लघु मोबाइल फिल्म निर्माण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।

डलहौज़ी हलचल (शिमला ) : हिमसिने सोसाइटी एक सोच एवं भारतीय चित्र साधना के संयुक्त तत्वावधान में पिछले दिनों लघु मोबाइल फिल्म निर्माण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । हिमसिने सोसाइटी के सचिव संजय सूद ने आज यहां जानकारी देते हुए बताया कि लघु मोबाइल फिल्म निर्माण प्रतियोगिता के आयोजन के लिए मीडिया के सभी माध्यमों से प्रचार एवं प्रसार करवाया गया।

उन्होंने बताया कि कोरोना काल में सभी कलाकारों को कला से जोड़े रखने और उनकी रचनाशीलता के लिए इस तरह के आयोजन, प्रतियोगिता, कलाकारों के लिए नयी संभावनाओं के बीज पोषित करतें हैं जो उनके भविष्य के लिए मील का पत्थर साबित होते हैं ।

उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में 34 फिल्में प्राप्त हुई । इन फिल्मों की स्क्रीनिंग सोसाइटी की ज्यूरी मैम्बर सुश्री ध्वनि देसाई, सुदिप्तो सेन, यदुविजय कृष्णन तथा विजेंदर मनी द्वारा की गई ।

उन्होंने बताया कि हिमसिने सोसाइटी एक सोच के सभी सदस्यों के सहयोग से मोबाइल लघु फिल्म का सफल आयोजन किया गया ।सोसाइटी एक सोच कला संवर्धन और प्रोत्साहन के लिए कृतसंकल्प है ।

संजय सूद ने हिमसिने सोसाइटी एक सोच द्वारा किए गए सफल आयोजन की जानकारी देते हुए बताया कि हमें हर्ष हो रहा है कि इस प्रतियोगिता में 34 फिल्मों में से पुरस्कृत फिल्मों का चयन किया गया है जिसमें अंशुल कुमार कोे फ़िल्म 2050 के लिए प्रथम, कृनेश पुन्डीर को फ़िल्म कनवरसेशन विद ट्री के लिए द्वितीय तथा राजीव चौहान को फिल्म नई पीढ़ी-नई आशाएं के लिए तृतीय स्थान के लिए पुरस्कृत किया गया है । इसी प्रकार सांत्वनाा पुरस्कारों में फ़िल्म इक्कीस बीस के लिए हितेष तथा फिल्म र्माइंड सेट के लिए हनी को पुरस्कृत किया गया है ।

उन्होंने सभी पुरस्कृत फिल्मकारों को हिमसिने सोसाईटी की ओर से हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं भी दी । सभी प्रतिभागियों का आभार, वे इसी तरह प्रतिबद्धता के साथ अपनी रचनात्मक के साथ आगे बढे़, सफलता निष्चित है । हमारा प्रयास है कि सभी प्राप्त फिल्में फरवरी माह में फिल्म फैस्टिवल के आयोजन के दौरान दिखाई जाए, हिमसिने सोसाईटी एक सोच इसके लिए प्रयासरत है ।


Next Story

हमीरपुर