Top
कुल्लू

चेरंग खड्ड में बाढ़ आने से अस्थाई पुल बहा, वाहनों की आवाजाही बंद

ManMahesh
12 Aug 2020 6:17 AM GMT
चेरंग खड्ड में बाढ़ आने से अस्थाई पुल बहा, वाहनों की आवाजाही बंद
x
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला किन्नौर के स्कीबा के समीप चेरंग खड्ड में बाढ़ आने से भारी नुकसान हुआ है।

हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला किन्नौर के स्कीबा के समीप चेरंग खड्ड में बाढ़ आने से भारी नुकसान हुआ है। आकपा के पास एनएच पांच पर भारी वाहनों की आवाजाही के लिए बना अस्थाई पुल बह गया है जिससे सड़क मार्ग बाधित हो गया है। भारी वाहनों की आवाजाही पूह व काजा के लिए बाधित हो गई है। स्कीबा गांव का जिला मुख्यालय से संपर्क पूरी तरह कट गया है। गांव की दो सिंचाई कूहलों को भी क्षति पहुंची है। मूरंग तहसील के तहत रिस्पा गाँव में बीती रात अचानक रिस्पा के चेरंग खड़ में जोर जोर से गड़गड़ाहट की आवाज आई। जिसके बाद ग्रामीणों ने रिस्पा खड़ के आसपास के लोगो को सचेत कर दिया कि अचानक खड़ का जलस्तर बढ़ने लगा और कुछ ही सेकेंड में खड़ में बाढ़ ने भयंकर रूप धारण कर लिया। जिसके बाद इस बाढ़ ने रिस्पा सड़क सम्पर्क मार्ग व खड़ के आसपास के सेब के बगीचे भी तबाह कर दिए।

इस खड़ में पिछले वर्ष भी इसी तरह बाढ़ आई थी, जिसमें पूर्व में इतना नुकसान नहीं हुआ था लेकिन इस वर्ष पहाड़ों पर हल्की हल्की बारिश के चलते किन्नौर के विभिन्न क्षेत्रों के बाढ़ आ रही है। इसी तरह रिस्पा खड़ में बाढ़ ने ग्रामीणों के कुछ सेब के बगीचों समेत सड़क को भी अपने आगोश में ले लिया है। फिलहाल इस बाढ़ के आने से किसी के जानमाल की सूचना नहीं है। वही मौके पर प्रशासन की तरफ से इस नुकसान के आंकलन के लिए कोई नहीं पहुंचा है।

वही इस बाढ़ के कारण सतलुज पर बना अस्थाई पुल भी बह गया है जिसके चलते काजा व स्पिति की ओर जाने वाले बड़े वाहनों के पहिये थम गई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 17 अगस्त तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब बना रहने का पूर्वानुमान जताया है।




Next Story