Top
चंबा

उम्मीद के दीपों के बीच लिया कोरोना को हराने का संकल्प

5 April 2020 10:04 PM GMT
उम्मीद के दीपों के बीच लिया कोरोना को हराने का संकल्प
x

वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए पेश आ रही चुनौतियों के अंधेरे को मात देने के लिए पूरे देश के साथ हिमाचल वासियों ने भी एकजुटता से उम्मीद का उजाला किया। लॉकडाउन और कोरोना जैसी महामारी से चल रही जंग के दौरान लोगों ने दीप जलाकर एकजुटता का संदेश दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संकट की इस घडी में लोगों से दीप जलाकर नौ मिनट प्रार्थना करने की अपील की थी। हालाँकि पीएम ने सिर्फ दीप जलाने के लिए कहा था लेकिन लोगों ने उत्साह में बढ़कर कई जगह लोगों ने आतिशबाजी भी की एवं भारत माता की जय के नारे लगाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर रविवार रात नौ बजे हर घर की बिजली बंद कर दी गई। ठीक नौ बजकर नौ मिनट तक लोगों ने घरों के बाहर, दरवाजे पर, बालकनियों और खिड़कियों में दीपक, मोमबत्तियां जलाकर और शंखनाद कर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने में नई ऊर्जा का संचार किया। एक पल के लिए तो ऐसा लगा मानो पूरे देश में दीपावली का त्यौहार आ गया हो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में सभी से अपील की थी कि वे 5 अप्रैल, की रात 9 बजे घर की सारी लाइटें बंद कर दें और दीये जलाएं। कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद पुरे देश के साथ चंबा जिला के भटियात उपमंडल में भी लोगों ने दीये और मोमबत्ती जलाकर एकजुटता का सन्देश दिया।

भटियात के विधायक बिक्रम सिंह जरयाल ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई में पूरा देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है । उन्होंने कहा कि आशा और विश्वास की एक किरण बड़े से बडे अंधकार को दूर कर देती है। उन्होंने कहा कि देशवासी अपने दृढ संकल्प से इस कोरोना वायरस को भगा कर ही दम लेंगे ।

वहीँ ककीरा क्षेत्र के कालुगज गाँव में भी लोगो ने को दीप प्रज्वलित किये और पटाके फोड़ कर कोरोना वायरस से जीत हासिल करने के लोगो से 21 दिन तक अपने ही घरो में रहने के लिये सन्देश दिया।

Next Story