Top
ऊना

कोटा से ऊना-परवाणू पहुंचे छात्र, मेडिकल परीक्षण हुआ

26 April 2020 12:29 AM GMT
कोटा से ऊना-परवाणू पहुंचे छात्र, मेडिकल परीक्षण हुआ
x

लॉकडाउन के बीच राजस्थान के कोटा से करीब पांच दर्जन विद्यार्थियों को एचआरटीसी की बसों में ऊना लाया गया हैं। यह बसें बीते दिन दस बजे कोटा से हिमाचल की ओर रवाना हुई थीं । चार जिलों के छात्रों को लेकर तीन बसें सुबह करीब आठ बजे मैहतपुर पहुंचीं।करीब 18 घंटो का सफर कर हिमाचल के विभिन्न जिलों के कुल 55 छात्र सुबह हिमाचल प्रदेश की सीमा में पहुंचे। इनमें से 27 छात्राएं शामिल भी है। सभी छात्रों को जिला ऊना के दो अलग-अलग होटलों में रखा गया है। इससे पहले हिमाचल प्रदेश के प्रवेश द्वार मैहतपुर पर सभी छात्रों की स्क्रीनिंग की गई।

यहां छात्रों के लिए बफर क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं। इसके बाद इनके यहां भी टेस्ट लिए जाएंगे। छात्रों के बाकायदा कोविड 19 के टेस्ट भी होंगे। रिपोर्ट निगेटिव आने पर इन्हें होम क्वारंटीन किया जाएगा। मौके पर पहुंचे एसडीएम ऊना डॉ. सुरेश जसवाल ने बताया कि बसों में ऊना, हमीरपुर, कांगड़ा और चंबा जिला के विद्यार्थी लाये गए हैं। परवाणू में आज सुबह करीब सात बजे 37 छात्र-छात्राएं एचआरटीसी की बसों में पहुंचे हैं। इन सभी को एक निजी होटल में ठहराया गया हैं। सभी के कोविड-19 सैंपल लिए जाएंगे। वहीं आज पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से भी छात्र हिमाचल लौटेंगे।

आज हिमाचल भवन चंडीगढ से 12 बजे एचआरटीसी की बस हिमाचल आएगी। मंत्रियों और विधायकों की मांग पर सरकार ने यह फैसला लिया है। उधर बिलासपुर के स्वारघाट पहुंचे 47 छात्रों की भी स्क्रीनिंग की गई और उनको बिलासपुर के लिए रवाना किया गया। ये छात्र बिलासपुर, मंडी, लाहुल स्पीति के हैं। स्वारघाट स्थित जिला सोलन व बिलासपुर की सीमा स्वारघाट में लगाए गए नाके पर इन सभी छात्रों का चिकित्सा परीक्षण करने के बाद इन्हें जिला मुख्यालय बिलासपुर भेज दिया गया है। जहां पर इनके आगामी चिकित्सा परीक्षण के लिए सैंपल एकत्र कर परीक्षण के लिए भेजे जाएंगे। स्वारघाट नाके पर इन सभी छात्रों के पते लिख कर व चिकित्सा टीम ने मैडिकल परीक्षण के बाद आगे जाने के अनुमति दी गई।थाना प्रभारी स्वारघाट बलबीर सिंह ने बताया कि राजस्थान के कोटा से लाए गए छात्रों को स्वारघाट नाके पर प्राथमिक चिकित्सा परीक्षण के बाद जिला मुख्यालय बिलासपुर भेज दिया गया है।

Next Story