Top
ऊना

क्वारंटीन सेंटर और अंतर्राज्यीय बैरियरों पर शिक्षकों की लगेगी ड्यूटी

6 July 2020 10:52 PM GMT
क्वारंटीन सेंटर और  अंतर्राज्यीय बैरियरों पर शिक्षकों की लगेगी ड्यूटी
x

कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए देशभर में क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं और हिमाचल प्रदेश में बनाए गए जिला ऊना के क्वारंटीन केंद्रों व अंतर्राज्यीय बैरियरों पर अब अध्यापक सेवाएं देंगे। इसके अलावा रेलवे स्टेशन ऊना पर भी अध्यापकों को ही तैनात जा रहा है। इस काम के लिए ऊना उपमंडल के 50 से अधिक अध्यापकों की तैनाती की जा रही है। तैनात किए गए शिक्षा विभाग के अध्यापकों को कोविड प्रोटोकॉल की जानकारी देने के लिए ऊना बचत भवन में एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने की।

बैठक में उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संकट की शुरूआत से राजस्व अधिकारी अंतर्राज्यीय बैरियर, क्वारंटीन केंद्रों तथा रेलवे स्टेशन पर सेवाएं देते आ रहे हैं, लेकिन अब प्रदेश सरकार ने राजस्व कार्यालयों को खोलने के आदेश जारी कर दिए हैं। जिसे देखते हुए सभी राजस्व अधिकारियों को इन सेवाओं से वापस बुलाया जा रहा है तथा उनके स्थान पर अध्यापकों की तैनाती की जा रही है।

बैठक में अध्यापकों को कोविड प्रोटोकॉल के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्हें बताया गया कि सिर्फ 5 वर्ष से कम, 80 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों तथा गर्भवती महिलाओं को ही होम क्वारंटीन किया जाएगा, जिन शहरों में अभी भी कोरोना संक्रमण अधिक है, वहां से आने वाले लोगों को जिला प्रशासन अनिवार्य रूप से संस्थागत क्वारंटीन कर रहा है।

संदीप कुमार ने कहा कि दो-तीन दिन तक अभी राजस्व अधिकारी अध्यापकों के साथ अंतर्राज्यीय बैरियर, क्वारंटीन केंद्रों तथा रेलवे स्टेशन पर ड्यूटी देते रहेंगे, ताकि उन्हें प्रोटोकॉल की पूरी जानकारी मिल जाए। इसके बाद राजस्व अधिकारी अपने कार्य पर लौट आएंगे। बैठक में एसडीएम ऊना डॉ. सुरेश जसवाल, सहायक आयुक्त डॉ. रेखा कुमार, तहसीलदार विजय राय, सीएमओ डॉ. रमण कुमार शर्मा, डीआरओ विद्याधर नेगी, एसडीएम हरोली गौरव चौधरी, सीडीपीओ कुलदीप दयाल तथा एएसपी विनोद कुमार धीमान भी उपस्थित रहे।

Next Story