Top
ऊना

ग्रामीण विकास मंत्री ने दिए विकास कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

19 Jun 2020 9:10 AM GMT
ग्रामीण विकास मंत्री ने दिए विकास कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश
x

ग्रामीण विकास, पंचायती राज, मत्स्य तथा पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बचत भवन में बैठक की और विकास कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। बैठक में कंवर ने कहा कि कोरोना काल में महामारी से बचना तथा विकास कार्यों को तेज करना चुनौती है। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों की योजनाएं तथा विकास कार्य कोरोना के चलते प्रभावित हुए हैं लेकिन अब प्रदेश सरकार दोबारा इन कार्यों पर पटरी पर लाने के लिए पूरे प्रयत्न कर रही है, ताकि लोगों को रोजगार मिल सके और उनकी जेब में पैसा पहुंच सके। साथ ही प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ भी आम जनता तक पहुंच सके।
ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते अपने रोजगार छोड़कर वापस लौटे लोगों का पुनर्वास व उन्हें रोजगार प्रदान करना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। राज्य सरकार ने देश के विभिन्न हिस्सों से प्रदेश में वापिस आने वाले लोगों की प्रतिभा का खाका तैयार करने के लिए एक प्रतिभा रजिस्टर बनाया है, ताकि उन्हें रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्रदान किए जा सकें।
ग्रामीण विकास विभाग 2500 करोड़ खर्च करने में सक्षम
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग अकेले 2500 करोड़ की धनराशि खर्च करने में सक्षम है। विभाग ने हाल ही में एक बीघा योजना तथा पंचवटी योजना शुरू की है, ताकि ग्रामीण परिवेश में लोगों को मनरेगा के तहत रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि मनरेगा के माध्यम से अब तक 3.66 लाख व्यक्तियों को रोजगार प्रदान किया गया है।
जिला प्रशासन की थपथपाई पीठ
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कोरोना संकट से निपटने तथा प्रभावितों की मदद के लिए किए जा रहे प्रयासों के लिए जिला प्रशासन ऊना की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि जिला में 13 हजार से अधिक प्रवासियों को दो-दो बार राशन वितरित किया गया तथा उन्हें हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाई गई। पूरे देश में हिमाचल प्रदेश मॉडल की चर्चा हो रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की सराहना की है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में जिला ऊना ने कोरोना संकट के दौरान सर्वश्रेष्ठ कार्य किया, जिसके लिए जिला ऊना की प्रशासनिक टीम बधाई की पात्र है। ग्रामीण विकास मंत्री ने सहयोग के लिए आम लोगों तथा समाजसेवी संस्थाओं का भी धन्यवाद किया। उन्होंने बताया कि कुटलहैड़ ने राहत राशि के रूप में लगभग 31 लाख रुपए दान किए हैं।
बैठक में उपस्थित उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने इससे पहले ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर को जिला प्रशासन ऊना के प्रयासों की विस्तार से जानकारी प्रदान की तथा बताया कि समाजसेवी संस्थाओं ने वैश्विक महामारी से लड़ने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।
यह रहे उपस्थित
समीक्षा बैठक में गगरेट से विधायक राजेश ठाकुर, डीसी संदीप कुमार के अलावा एसपी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन, एडीसी अरिंदम चौधरी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक के बाद ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने प्रैस वार्ता को संबोधित किया।

Next Story