Top
चंबा

चीन में योगगुरु बनकर अपनी चमक बिखेर रहे रवि भारद्वाज का सन्देश ,घर में रहकर योग से भगाएं कोरोना

5 April 2020 9:33 PM GMT
चीन में योगगुरु बनकर अपनी चमक बिखेर रहे रवि भारद्वाज का सन्देश ,घर में रहकर योग से भगाएं कोरोना
x

चीन में योगगुरु बनकर अपनी चमक बिखेर रहे जिला चंबा के साल घाटी के पनेला निवासी रवि भारद्वाज ने चीन से घर में ही रहकर और योग कर कोरोना भगाने का संदेश दिया है। चंबा जिले के रवि कुमार पिछले पांच साल से चीन में लोगों को योग की शिक्षा दे रहे हैं। वह रोजाना फेसबुक लाइव के जरिये लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के टिप्स दे रहे हैं। साथ ही अपील कर रहे हैं कि सरकार के निर्देशों का सभी पालन करें।

लोग भी उनसे चीन के ताजा हालात का अपडेट ले रहे हैं। रवि कुमार (30) ने चीन की लड़की से शादी की है। उनका कहना है कि नवंबर 2019 से चीन के वुहान शहर से कोरोना से कितनी मौतें हुई हैं, इसका सही अनुमान अभी नहीं लगाया जा सका है। चीन में अब स्थिति सामान्य हो रही है। कुछ जगह अभी भी मामले सामने आ रहे हैं। कहा कि उन्होंने खुद को होम क्वारंटीन कर कोरोना से बचाया है।

पनेला गांव के ज्ञान चंद के घर 1990 में पैदा हुए रवि ने जमा दो तक की पढ़ाई करने के बाद पतंजलि योगपीठ से तीन साल योग की शिक्षा ली। यहां बाबा रामदेव से आशीर्वाद लेकर योग की शिक्षा और प्रचार के लिए वह निकल पड़ा। पहले गुड़गांव योगा हेल्थ केयर योगा स्टूडियो में एक साल तक योग शिविर आयोजित किए। इसके बाद रवि ने चंडीगढ़ में एक वर्ष तक योग शिक्षक के रूप में कार्य किया। वर्ष 2015 में रवि ने चीन का रुख किया। भाषा की दीवार आगे आई तो चीनी भाषा को सीखा और समझा। रवि की मेहनत रंग लाई और उनसे योग सीखने वालों की संख्या बढ़ती गई। रवि योगगुरु के तौर पर खुद को स्थापित करने में कामयाब रहे। अब रवि चीन के स्कूली शिक्षकों को भी योग सिखाते हैं। रवि चीन के राज्य जिलिन जिला चांगचुंग में लोगों को योग सिखाता है।

योग गुरु के नाम से मशहूर रवि ने देशवासियों को नारा दिया है कि ‘बाहर हमने जाना नहीं, अंदर कोरोना आना नहीं’। कहा कि इससे बचने का एकमात्र उपाय लॉकडाउन ही है। उनके अनुसार भारत में एक महीने तक लॉकडाउन के बाद हालात सामान्य हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह चीन में दो से ढाई महीने लॉकडाउन रहे हैं। कहा कि मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखे, सैनिटाइजर का प्रयोग करें और बार-बार हाथ धोते रहें। रवि ने हंता वायरस पर कहा कि अफवाहों पर न जाएं। सर्दी-जुकाम होते ही अस्पताल में जांच करवाएं।

Next Story