Top
चंबा

डलहौज़ी से निकला एक और मोती, पर्ल आनंद ने उतीर्ण की AMECET 2020 की परीक्षा

19 July 2020 12:28 AM GMT
डलहौज़ी से निकला एक और मोती, पर्ल आनंद ने उतीर्ण की AMECET 2020 की परीक्षा
x

डलहौज़ी में प्रतिभा की कमी नहीं है। ये सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल अपने शैक्षणिक संस्थानों के लिए भी जाना जाता है और इन शैक्षणिक संस्थानों के विद्यार्थी देश और विदेश में क्षेत्र का नाम रोशन कर रहे है। अभी हाल ही में यहाँ के एक साधारण परिवार से सम्बंधित साहिल ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में चिकित्सक के रूप में अपनी सेवायें देना आरम्भ किया है और अब डलहौज़ी के अग्रणी शिक्षा संस्थान गुरु नानक पब्लिक स्कूल की छात्रा पर्ल आनंद ने अभी हाल में हुई AMECET 2020 परीक्षा में 2367 AIR हासिल कर इसे सफलता पूर्ण उत्तीर्ण किया है।

पर्ल आनंद की इस सफलता से डलहौज़ी व जिला चम्बा का नाम रोशन हुआ है। यहाँ हम आपको बता दें कि कोरोना महामारी के कारण इस परीक्षा को ऑनलाइन आयोजित किया गया था जिसमें देश के लाखो बच्चो ने भाग लिया था। इस महत्वपूर्ण परीक्षा को उत्तीर्ण करने के साथ ही उसके लिए एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, वैमानिकी इंजीनियरिंग, विमान रख रखाव इंजीनियरिंग और अन्य आधुनिक विषयो के द्वार खुल गए हैं। पर्ल आनंद ने परीक्षा को उत्तीर्ण करने के साथ साथ स्कॉलशिप भी हासिल किया है । पर्ल आनंद ने इस परीक्षा की तैयारी और कोचिंग हमीरपुर की अग्रणी कोचिंग संस्था 'चाणक्य द गुरु' से ली थी।

पर्ल आनंद ने अपनी इस सफलता का श्रेय गुरु नानक पब्लिक स्कूल ,चाणक्य द गुरु व समस्त अध्यापको और अपने माता पिता को दिया है। इससे पूर्व जनवरी में हुई JEE main की परीक्षा को भी पर्ल आनंद ने पहले प्रयास में ही उत्तीर्ण कर लिया था व CBSE की 12वी कक्षा के कुछ दिन पहले निकले नतीजो में 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल किए थे । पर्ल आनंद के पिता विशाल आनंद डलहौज़ी में पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य कर रहे है और माता डलहौज़ी के सरकारी स्कूल में इंग्लिश की प्रवक्ता के रूप में कार्यरत हैं ।

अपनी बेटी की सफलता से पर्ल के माता पिता फूले नहीं समा रहे है। पर्ल के पिता का कहना है कि उन्होंने अपनी बेटी को कभी भी बेटे से कम नहीं समझा है और उसका पालन पोषण एक बेटे की तरह hi किया है उन्होंने कहा कि वे अपनी बेटी के सपने को साकार करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।

Next Story

हमीरपुर