Top
नाहन

बड़ी लापरवाही- पांवटा साहिब में हाई लोड सिटी अहमदाबाद से आए व्यक्ति को कंपनी के निजी गेस्ट हाउस में करवाया गया था क्वॉरंटाइन

19 Jun 2020 2:15 AM GMT
बड़ी लापरवाही- पांवटा साहिब में हाई लोड सिटी अहमदाबाद से आए व्यक्ति को कंपनी के निजी गेस्ट हाउस में करवाया गया था क्वॉरंटाइन
x

पांवटा साहिब में बुधवार रात को एक 53 वर्षीय व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने का मामला सामने आया था, जोकि प्रशासन द्वारा जारी ज्यादा प्रभावित वाले शहर अहमदाबाद से आया था। सूत्रों के अनुसार वह 11 जून को पांवटा साहिब आया था और पांवटा साहिब के वीआईपी रिजोर्ट में कंवरंटाइन किया गया था। अब सोचने वाली बात यह है कि जहां पर प्रदेश सरकार द्वारा साफ निर्देश दिए गए हैं कि जो भी व्यक्ति रेड जोन से आएंगे वह इंस्टीट्यूशनल कवरंटाइन किए जाएंगे तो यहां पर वह किस विभाग की लापरवाही से निजी गेस्ट हाउस में कंवरंटाइन करवाया गया।

चूंकि गत दिनों पहले जिला सिरमौर उपायुक्त के द्वारा 15 जून को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा गया है कि जो व्यक्ति या कर्मचारी बाहर से उद्योगों में काम करने आ रहे हैं उन्हें किसी भी तरह से कवरंटाइन नहीं किया जाएगा वहीं साफ दिशा निर्देश दिए गए थे हाई लोड इलाके से आए व्यक्ति को इंस्टीट्यूशनल कवरंटाइन किया जाएगा। परंतु यह व्यक्ति 11 जून को हिमाचल प्रदेश की सीमा में प्रवेश किया था तथा वह तब से ही इस निजी गेस्ट हाउस में रह रहा था।

ज्ञात हो जिला प्रशासन के द्वारा शहर के सिर्फ तीन होटल को पेड कवरंटाइन रखने की इजाजत दी गई है, जिसमें वी आई पी रिजॉर्ट का नाम नहीं है। हमारे चैनल ने जब वी आई पी रिजॉर्ट के मालिक आजाद से बात की तो उन्होंने बताया कि उनके इस वीआईपी रिजॉर्ट में दो निजी कंपनियों ने अपना गेस्ट हाउस बनाया हुआ है तथा तिरुपति फार्मा के पास चार कमरे किराए पर दिए गए है। उन्होंने बताया कि इन कमरों में उच्च अधिकारियों के रहने का इंतजाम किया गया है। इस गेस्ट हाउस में उपरोक्त व्यक्ति के साथ दूसरे रूम में एक व्यक्ति और भी रह रहा था जिसे देर रात यहां से शिफ्ट कर दिया गया है ।

वहीं अब सोचने की बात यह है कि जिला प्रशासन द्वारा 2 दिन पहले ही गेस्ट हाऊस,होटल इत्यादि में कमरे उपलब्ध करवाने की इजाजत दी गई है वही इस वीआईपी रिजॉर्ट में इतने दिनों से इन कमरों में कैसे व्यक्ति रह रहे थे यह सब जांच का विषय है।

वहीं कुछ लोगों का कहना है कि इस रिसोर्ट के सीसीटीवी फुटेज चेक किया जाए कि कहीं यह व्यक्ति इस रिजॉर्ट से बाहर तो नहीं निकला है ।

उधर इस बारे में एसडीएम पांवटा एल आर वर्मा से बात हुई तो उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा इस गेस्ट हाउस को पेड क्वारंटाइन सेंटर नहीं बनाया गया है। उन्होंने कहा की इस बारे में टूरिज्म विभाग को पूछा जा रहा है। यह व्यक्ति यहाँ कैसे रखा उन्होंने कहा की उनके जबाब आने के बाद कार्यवाई अमल में लाई जाएगी।

Next Story