Top
चंबा

बेवजह काम लटकाने वाले ठेकेदारों को भेजें नोटिस

28 July 2020 5:29 AM GMT
बेवजह काम लटकाने वाले ठेकेदारों को भेजें नोटिस
x

बेवजह काम लटकाने वाले ठेकेदारों को विभाग नोटिस भेजना सुनिश्चित करें और यदि फिर भी काम समय पर पूरा ना हो तो पेनल्टी वसूल करने की कार्रवाई अमल में लाई जाए। सांसद एवं अध्यक्ष जिला स्तरीय विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) किशन कपूर ने यह निर्देश आज राजकीय मेडिकल कॉलेज चंबा के दरबार हॉल में आयोजित समिति की समीक्षा बैठक के दौरान दिए। बैठक में विधायक विक्रम जरियाल, विधायक पवन नैयर के अलावा जिला मार्केट कमेटी अध्यक्ष डीएस ठाकुर और उपायुक्त विवेक भाटिया ने भी हिस्सा लिया।

बैठक के दौरान किशन कपूर ने केंद्र सरकार की योजनाओं और स्कीमों के कार्यान्वयन से जुड़े 22 विभागों की प्रगति की समीक्षा की। किशन कपूर ने लोक निर्माण विभाग और राष्ट्रीय उच्च मार्ग डिवीजन की समीक्षा करते हुए कहा कि जब तक ठेकेदार तय समय अवधि में काम को पूरा नहीं करेंगे तब तक सड़क परियोजनाओं के काम अधूरे रहेंगे। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को कहा कि इस दिशा में गंभीरता के साथ कदम उठाए जाएं। परियोजना के समय पर पूरा ना होने से जहां लोगों को उसका अपेक्षित लाभ नहीं मिलता वहीं विलंब के कारण परियोजना की लागत में भी बढ़ोतरी हो जाती है। इन सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए विभाग अपनी कार्य कार्य प्रणाली को अमलीजामा पहनाए।

उन्होंने जिला के खनन अधिकारी को भी निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण को सामग्री सप्लाई करने के मकसद से स्थापित क्रशर की जांच रिपोर्ट उपायुक्त को सौंपे ताकि पता चल सके कि क्रशर द्वारा अब तक कितनी सामग्री तैयार की गई और उसमें से राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण को कितनी सामग्री दी गई। नियमों की अवहेलना पाए जाने पर संबंधित क्रशर संचालक पर पेनल्टी भी लगाई जाए। उन्होंने कहा कि कटोरी बंगला से लेकर भरमौर तक के राष्ट्रीय राजमार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग मंडल प्राथमिकता के आधार पर सभी मानकों के अनुरूप समयबद्ध तरीके से पूरा करे।

सांसद ने बिजली बोर्ड के अधीक्षण अभियंता को कहा कि बिजली बोर्ड का फील्ड स्टाफ उन लोगों तक पहुंचे जो स्कीम के पात्र हैं और उन्हें स्कीम और उसकी औपचारिकताओं की जानकारी दें।

अधीक्षण अभियंता ने किशन कपूर को अवगत करते हुए कहा कि वर्तमान में चंबा जिला में 457 ऐसे घर हैं जिन्हें बिजली के कनेक्शन दिए जाने हैं। यह वे घर हैं जो या तो नए निर्मित हुए हैं या फिर लेफ्ट आउट हैं। किशन कपूर ने कहा कि बिजली बोर्ड अपनी कार्य योजना के तहत इन सभी घरों को सरकार की योजना के तहत जल्द बिजली के कनेक्शन मुहैया करे। उन्होंने यह भी कहा कि बिजली के खंभों को बदलने के काम में भी बिजली बोर्ड तत्परता बरते और जिन क्षेत्रों में इसकी जरूरत है उसे जल्द पूरा किया जाए। किशन कपूर ने बताया कि केंद्र सरकार के जल जीवन मिशन के तहत चंबा जिला में 129 स्कीमों पर कार्य चल रहा है जबकि 108 नई स्कीमों को मंजूरी के लिए भेजा गया है।

कॉविड- 19 के दौर में ऑनलाइन शिक्षा को लेकर किशन कपूर ने प्रारंभिक और उच्च शिक्षा उप निदेशकों को निर्देश देते हुए कहा कि वे सभी स्कूल प्रमुखों की बैठक करके पढ़ाई की कारगर योजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि विभाग एक ऐसा मैकेनिज्म तैयार करे जिससे ना केवल ऑनलाइन शिक्षा की समीक्षा हो बल्कि जिन विद्यार्थियों के पास ऑनलाइन शिक्षा हासिल करने का साधन नहीं है उनको भी नियमित आधार पर पढ़ाई की सुविधा मिले। विभागीय अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि पढ़ाई के लिए भेजी गई सामग्री विद्यार्थियों तक पहुंच रही है।

उन्होंने कहा कि चंबा जिला में कृषि की कई संभावनाएं मौजूद हैं।उन्होंने कृषि उपनिदेशक को कहा कि चंबा जिला में पुराने जमाने से पैदा की जा रही खाद्यान्न कि वे फसलें जो अब विलुप्त होने के कगार पर हैं उनकी खेती दोबारा शुरू करने को लेकर किसानों को तैयार करें। कोदरा, फुल्लण, जौ, चोली व कोणी जैसी खाद्यान्न फसलों में औषधीय गुण भी मौजूद रहते हैं। किशन कपूर ने विभागीय अधिकारियों को यह भी कहा कि चूंकि चंबा जिला एक आकांक्षी जिला है ऐसे में सभी विभागों को और बेहतर तरीके से कार्य निष्पादन करना चाहिए ताकि चंबा जिला विकास के और नए आयाम स्थापित कर सके।

पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका, अतिरिक्त उपायुक्त मुकेश रेपसवाल, जिला के विभिन्न उपमंडलों के एसडीएम और केंद्रीय योजनाओं और स्कीमों के कार्यान्वयन से जुड़े विभागों के जिला अधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे।

Next Story

हमीरपुर