Top
चंबा

भारी बारिश के बीच 28 प्रतिभागियों ने पूरी की हाफ मैराथन

23 Jun 2020 3:59 AM GMT
भारी बारिश के बीच 28 प्रतिभागियों ने पूरी की हाफ मैराथन
x

विश्व ओलंपिक दिवस के मौके पर मंगलवार को ओलंपिक संघ चंबा द्वारा हाफ मैराथन का आयोजन किया गया, जिस समय दौड़ शुरू हुई तो भारी बारिश का दौर भी शुरू हो गया। लेकिन, तमाम मुश्किलों के बावजूद प्रतिभागियों ने दौड़ को पूरा किया। मैराथन में द्रोणा मिल्ट्री अकादमी व टीम द हिमालयन राइडर चंबा का भी सहयोग रहा। इसमे महिलाओं ने भी अपनी भागीदारी सुनिश्चित की। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दौड़ शुरू हुई। कुल 28 प्रतिभागियों ने भाग लेते हुए एक घंटा व 20 मिनट में दौड़ पूरी की। इसमें पुनीत सिंह कुदियाल ने पहला, हिमांशु कुमार ने दूसरा व राहुल चौणा ने तीसरा स्थान हासिल किया। कार्यक्रम के मुख्यातिथि उपायुक्त चंबा विवेक भाटिया रहे। उनके पहुंचने पर ओलंपिक संघ के संयोजक मनुज शर्मा व सदस्यों ने स्वागत करते हुए स्मृति चिन्ह भेंट किया।

इसके साथ विशेष अतिथि के रूप में मौजूद उड़नपरी सीमा को भी सम्मानित किया गया। इसके उपरांत मुख्यातिथि ने उपस्थित प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। साथ ही उड़नपरी सीमा की उपलब्धियों पर उन्हें बधाई देते हुए कहा कि इतनी कम उम्र में सीमा ने जो नाम कमाया है। यह उनकी कड़ी मेहनत का नतीजा है। उन्होंने युवाओं से आह्वान करते हुए कहा कि पढ़ाई के साथ ही खेलकूद प्रतियोगिताओं में भी भाग लेते रहें, ताकि आप शारीरिक व मानसिक तौर पर मजबूत बने रहें। वहीं, जिला संयोजक मनुज शर्मा ने कहा कि हाफ मैराथन कोरोना योद्धाओं को समर्पित की गई है। उन्होंने कहा कि ओलंपिक संघ के प्रदेश अध्यक्ष व केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर की प्रेरणा से इसका आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि खेलों को अनुराग ठाकुर प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार कार्य कर रहे हैंं, ताकि युवा प्रतिभाओं को आगे आने का मौका मिले।

उन्होंने कहा 21 से अधिक किलोमीटर की कुल दौड़ रही, जिसे प्रतिभागियों द्वारा पूरा किया गया। उन्होंने कहा कि खेल जगत से उर्जा का संचार होता है। इसलिए हर वर्ष इसका आयोजन किया जाता है। महिला प्रतिभागियों को संबोधित करने उपरांत उन्होंने हाफ मैराथन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान प्रतिभागी मिलेनियम गेट से, सरोथा नाला, चमीनू, पल्यूर, संगेरा होते हुए साहो में चंद्रशेखर मंदिर तक पहुंचे। जहां पर स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा उनका स्वागत किया गया।

Next Story

हमीरपुर