Top
चंबा

यहाँ पालकी और ग्रामीणों के कन्धों पर चल रही है हिमाचल के विकास की गाडी

19 July 2020 10:06 PM GMT
यहाँ पालकी और ग्रामीणों के कन्धों पर चल रही है हिमाचल के विकास की गाडी
x

चार कंधे और पालकी में लेटी हुई बीमार वृद्ध महिला की यह तस्वीर हिमाचल प्रदेश में सरकार के विकासात्मक कार्यों के विषय में अपने आप सब कुछ कह देती है। सरकार नये नये वादे करती है नये नये रिकार्ड गिनती है लेकिन यह तस्वीर उन वादों और रिकार्ड की सारी पोल खोल देती है। रविवार को भटियात उपमंडल के बैली पंचायत के तहत आते लूणा गांव में एक बुजुर्ग महिला की तबीयत अचानक बहुत खराब हो गई। गांव वालों ने पालकी में बड़ी मुश्किल से उसको सड़क तक पहुंचाया। आधे रास्ते तक तो पालकी में ले गए , उसके बाद पीठ पर उठाकर सड़क तक ले जाना पड़ा । गांव वालों की सरकार से मांग की है कि उन्हें जल्द ही इस समस्या से निजात दिलाई जाए और जल्दी से जल्दी एंबुलेंस योग्य सड़क मार्ग से जोड़ा जाए l

बता दें कि इस गाँव की आबादी लगभग साढ़े तीन सौ के करीब है और यहाँ पर पैदल चलने मात्र के लिए उचित रास्ता नहीं है l अगर जरा सी भी चूक हो जाये तो कोइ भी अप्रिय घटना घट सकती है l ग्रामीणों में जैसी राम , बाबूराम , देवराज, शिवकुमार ,अशोक कुमार, राजकुमार ,गुड्डी देवी , रीता देवी ,रामलाल और रवि कुमार ने सरकार से मांग की है कि यहाँ के रास्तों को जल्द से जल्द सुधारा जाए l

Next Story

हमीरपुर