Top
चंबा

युवा शिक्षक युद्धवीर टंडन के शैक्षिक नवाचारों की उत्तर प्रदेश के शिक्षकों ने की सराहना

21 Jun 2020 6:33 AM GMT
युवा शिक्षक युद्धवीर टंडन के शैक्षिक नवाचारों की उत्तर प्रदेश के शिक्षकों ने की सराहना
x

जिला चम्बा के शिक्षक युद्धवीर टंडन ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिला में राज्य शिक्षण एक तकनीकी संस्थान उत्तर प्रदेश (SIET) व एडूलीडर्स संस्था के संयुक्त तत्वाधान में लीडरशिप इन एजुकेशन विषय पर आयोजित 10 दिवसीय शैक्षिक वेबिनार के चोथे दिन बतौर मुख्य अतिथि व मुख्य वक्ता शिरकत की इस 10 दिवसीय शैक्षिक वेबिनार के चोथे दिन का “विषय शिक्षण अधिगम प्रक्रिया का रूपान्तर” (ट्रांसफॉर्मेशन ऑफ़ टीचिंग लर्निंग प्रोसेस) रखा गया था व इस विषय के अंतर्गत दो उपविषय ‘बच्चे की विकासात्मक जरूरतें’ व ‘नवाचारी शिक्षण अधिगम विधियाँ’ निर्धारित किए गये थे।

शिक्षक युद्धवीर टंडन ने बतौर मुख्य वक्ता ‘नवाचारी शिक्षण अधिगम विधियाँ’ विषय पर अपना व्याख्या प्रस्तुत किया। अपने व्याख्यान में नवाचारी शिक्षक युद्धवीर टंडन ने शिक्षा में नवाचार कैसे करें, इसकी चरणबद्ध वैज्ञानिक प्रक्रिया व अपने विद्यालय के नवाचारों पर प्रकाश डाला। वेबिनार में उत्तरप्रदेश राज्य के लगभग 100 के करीब शिक्षक जुड़े हुए थे। सभी ने व्याख्यान को काफी सराहा व व्यवहारिक विचारों को अपने अपने विद्यालयों में शुरू करने की बात भी कही। प्रदेश के युवा नवाचारी शिक्षक युद्धवीर टंडन ने बताया कि देश में जनसंख्या के आधार पर सबसे बड़े राज्य के शैक्षिक वेबिनार में अपने राज्य व जिला के साथ साथ अपने विद्यालय का प्रतिनिधित्त्व करते हुए बतौर मुख्य अतिथि व मुख्य वक्ता व्याख्यान देना उनके लिए गौरव की बात है।

उन्होंने इसके लिए कार्यक्रम के सर्जक डॉ. सरवेष्ठ मिश्रा व राज्य शिक्षण एवं तकनीकी संस्थान उत्तर प्रदेश की निदेशक ललिता प्रदीप सहित वेबिनार में मौजूद उत्तर प्रदेश के सभी शिक्षकों का आभार व्यक्त किया। इसके अतिरिक्त विशेष वक्ताओं में मुकेश अवस्थी, विपिन शाख्या, व अनुपमा मिश्रा ने भी अपना वक्तव्य रखा। इस वेबिनार का उद्देश्य अध्यापकों को नेतृत्त्व का प्रशिक्षण देना है।

Next Story