Top
नाहन

सेवा सेतु सिरमौर पोर्टल अब 8 और नई सेवाओं से जुड़े सेवा प्रदाता भी करा सकते है पंजीकरण

17 Jun 2020 8:03 AM GMT
सेवा सेतु सिरमौर पोर्टल अब 8 और नई सेवाओं से जुड़े सेवा प्रदाता भी करा सकते है पंजीकरण
x

जिला प्रशासन सिरमौर द्वारा शुरू किये गए सेवा सेतु सिरमौर पोर्टल पर अब साउंड सिस्टम, फोटोग्राफी, टैंट हाउस, मण्डप सजावट, शेटरिंग, कंप्यूटर असेंबलिंग, पशुचारा व निर्माण संबंधी कार्यों से जुड़े सेवा प्रदाता भी अपना पंजीकरण कर सकते हैं।

यह जानकारी देते हुए उपायुक्त सिरमौर डॉ आर के परूथी ने बताया कि जिला सिरमौर में लॉकडाउन के दौरान लोगों की सेवाओं संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिए इस पहल की शुरूआत की गई। उन्होंने बताया कि अब इस पोर्टल पर सेवाओं की संख्या 56 हो गई है और लगभग 920 विभिन्न सेवा प्रदाताओं ने पोर्टल पर पंजीकरण किया है। इस पहल से जहाँ एक तरफ लोगों को लॉकडाउन में सभी प्रकार की सेवाएं फोन कॉल के माध्यम से घर बैठे ही प्राप्त हो सकेंगी, वही दूसरी तरफ लॉकडाउन की वजह से रोजगार खो चुके कुशल लोगों को काम मिलेगा।

इस पोर्टल पर विभिन्न प्रकार के सेवा प्रदाता www.dcsirmaur.com पर जाकर निःशुल्क पंजीकरण कर सकते है। उन्होंने बताया कि इस पोर्टल पर अभी तक लगभग 920 सेवा प्रदाताओं ने पंजीकरण किया है जिसमे मुख्यतः 130 बचाव कार्यों से जुडे लोग, 111 होटल, 100 नाई, 58 किराने की दुकान, 56 इलेक्ट्रीशियन, 49 होम स्टे, 37 फल व सब्जी विक्रेता, 34 जेसीबी सेवा प्रदाता, 39 टैक्सी सेवा प्रदाता व कार ड्राइवर, 30 लेखाकार, 33 कारपेंटर, 24 प्लम्बर, 23 इलेक्ट्रोनिक्स रिपेयर, 18 कृषि उपकरण बेचने वाले, 15 टयूशन अध्यापक, 14 टेलर, 10 वेल्डर, 08 नर्सरी पालक, 08 ऑर्गेनिक सब्जी व फल विक्रेता, 08 ऑटो मैकेनिक, 08 गुडस केरियर, 08 जिम ट्रैनर, 09 ई-कॉमर्स सेवा, 06 लेबर, 06 केबल, 06 पेन्टर, 05 कुक, 04 फार्मासिस्ट, 04 प्रिन्टिग प्रेस, 04 दुधवाले, 03 माली, 03 कार वर्कशॉप, 02 मिस्त्री, 02 रेस्टोरेंट, 02 सेल्समेन, 02 डॉक्टर, 01 साउंड सिस्टम, 01 कार क्लीनर, 01 मेड, 01 लांड्री, 07 मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव, 01 नैनी, 05 फोटोग्राफर, 01 फिजियोथैरेपिस्ट, 01 स्वयंसहायता समूह, 01 ट्रैक्टर सेवा प्रदाता और 01 कलाकार शामिल हैं। अगर किसी व्यक्ति को इस पोर्टल को इस्तेमाल करने या पंजीकरण करने में कोई परेशानी सामने आ रही है तो वह नजदीकी लोक मित्र केंद्र में जाकर सहायता प्राप्त कर सकता है।

पंजीकरण प्रक्रिया के लिए सेवा प्रदाता के पास मोबाईल नम्बर होना अनिवार्य है जिस पर ओटीपी के माध्यम से ही पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण होगी। इच्छुक व्यक्ति पंजीकरण स्वयं कर सकते है या व्यक्ति द्वारा दी गई जानकारी की जांच के बाद जिला प्रशासन द्वारा पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होने के बाद पंजीकृत सेवा प्रदाताओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा जिसके बाद वह सेवा प्रदान करना शुरू करेंगे।

Next Story