Top
सोलन

2022 विधानसभा चुनावों में हिमाचल को मिलेगा ईमानदार राजनैतिक क्षेत्रीय दल

7 Aug 2020 6:11 AM GMT
2022 विधानसभा चुनावों में हिमाचल को मिलेगा ईमानदार राजनैतिक क्षेत्रीय दल
x

भाजपा व काग्रेस की नीतियों को टक्कर देने के लिए 2022 के विधानसभा चुनावों मे लोगो को ईमानदार राजनैतिक क्षेत्रीय दल मिलेगा । जो कि जनता की समस्याओं का समाधान करेगा । यह बात पूर्व मंत्री व सांसद राजन सुशांत ने सोलन मे एक पत्रकार वार्ता के दौरान कहीं । उन्होंने कहा कि 2022 के चुनावों मे यह राजनैतिक क्षेत्रीय दल सभी 68 के 68 विधानसभा क्षेत्रो मे अपने उम्मीदवार उतारेगी ।

2022 चुनावो की सरगर्मीयां अब शुरू होने लगी है। भाजपा व काग्रेस की नीतियों को टक्कर देने के लिए अब सूबे मे अलग राजनैतिक क्षेत्रीय दल बनेगा।जिसमे की ईमानदार लोग भाग ले सकते है।यह बात पूर्व मंत्री व पूर्व सांसद राजन सुशांत ने कही । उन्होंने कहा कि नवरात्रो मे इस क्षेत्रीय दल के नाम की घोषणा की जायेगी ।राजन सुशांत ने दावा किया कि प्रदेश की जयराम सरकार सत्ता सुख भोग रही है और जनता की समस्याओं से अनभिज्ञ है। जनता की परवाह जयराम सरकार को नहीं है। जनता विभिन्न तरह की समस्याओं से परेशान है वहीं मुख्यमंत्री हवाई दौरो मे व्यस्त है। बस किराये सहित मंहगाई की चौतरफ़ा मार आमजन को झेलनी पड रही है। वहीं कर्मचारियों के आगे भी समस्याओं का अंबार है।

उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार बनते ही पुरानी पेंशन बहाल की जायेगी । उन्होंने कहा कि कोरोना काल मे सरकार जनता को सुविधाए देने मे विफल रही है। सुविधाओ की बजाये जयराम सरकार ने जनता को कर्ज के बोझ तले दबने को मजबूर किया है। उन्होंने कहा कि तीसरे दल मे इमानदार लोग भाग ले सकते है। तीसरे दल मे आने का पैमाना ईमानदारी है।

राजन सुशांत ने कहा कि जहां एक और कोरोना काल मे आम जनता को सरकार सोशल डिस्टेंसिग सहित सभी एहतियातो बारे बड़ी बड़ी जानकारियां दे रही है। तो वहीं दूसरी तरह उनके मंत्री और मुख्यमंत्री ही सोशल डिस्टेंसिग की धज्जियां उड़ा रहे है। जिसका नतीजा यह है कि सरकार के कैबिनेट मंत्री कोरोना पॉजिटिव आ गये हैं ,बावजूद इसके हवा मे रहने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर धर्मशाला में खूब जनता के बीच दो गज की दूरी के नियम की अवहेलना कर रहे हैं और दूसरो को नसीहत देने वाले खुद ही इस नियम की फजीहत कर रहे है। ऐसी सरकार है हिमाचल प्रदेश की ।

राजन सुशांत यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और उनके मंत्रीयों को जनता ने ही चुन कर भेजा है , लेकिन सत्ता मे आने के बाद उनके हाव भाव ही बदल गये है। मानो वे आसमान में हैं और जनता कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसे मुख्यमंत्री व उनके मंत्रीयों को यह जनता जरूर सबक सिखायेगी और 2022 चुनावों मे ऐसी सरकार को सत्ता से बाहर करेगी ।

Next Story