Top
चंबा

26 जून से 30 जून तक नशीले पदार्थ पैदा करने वाले पौधों को किया जाएगा नष्ट

26 Jun 2020 5:28 AM GMT
26 जून  से 30 जून तक नशीले पदार्थ पैदा करने वाले पौधों को किया जाएगा नष्ट
x

अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर नशे की बुराई से मुक्त समाज के निर्माण का लक्ष्य हासिल करने के लिए आज अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ निषेध दिवस का आयोजन किया गया। इसके तहत नशीले पदार्थ पैदा करने वाले पौधों को भी नष्ट किया गया। जिला मुख्यालय पर भी कसाकड़ा मोहल्ला के समीप पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका और सदस्य सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पंकज की अगुवाई में पुलिस द्वारा भांग के पौधों को नष्ट किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव एवं अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी पंकज ने बताया कि यह अभियान 26 जून से शुरू होकर 30 जून तक चलेगा। उन्होंने बताया कि चूंकि स्थानीय स्तर पर पंचायती राज संस्थाओं और स्थानीय निकायों का बहुत बड़ा प्रभाव रहता है, ऐसे में इस अभियान में पंचायती राज संस्थाओं और नगर निकायों का भी पूरा सहयोग लिया जाएगा ताकि अवैध तरीके से नशीले पदार्थ पैदा करने वाले पौधों की खेती को पूरी तरह से नष्ट किया जा सके।

उन्होंने बताया कि अभियान को सफल बनाने के मकसद से पुलिस और वन विभाग भी सामूहिक तौर पर अपना सक्रिय सहयोग देंगे।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव ने यह भी बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 'लीगल सर्विसेज टू विक्टिम्स ऑफ ड्रग एब्यूज एंड इरेडिकेशन आफ ड्रग मेनेस स्कीम- 2015, शुरू की गई है। इस स्कीम के तहत बचाव को लेकर उठाए जाने वाले कदमों के अलावा ऐसे व्यक्तियों के पुनर्वास को लेकर भी प्रयास किए जाते हैं। उन्होंने आमजन का भी आह्वान करते हुए कहा कि वे ड्रग्स के इस गंभीर खतरे के परिणामों के प्रति स्वयं भी सचेत रहें और विशेष तौर से अपने परिवार में युवा वर्ग को इस बुराई से हमेशा दूर रहने को लेकर निरंतर प्रयास करते रहें ताकि प्रत्येक परिवार और हमारा समाज मादक पदार्थों के इस जाल से हमेशा मुक्त रहे। उन्होंने अभिभावकों से भी विशेष आग्रह किया कि वे अपने बच्चों के साथ हमेशा इंटरेक्शन करें और उनकी समस्याओं के प्रति संवेदनशील रहे और पूरी गंभीरता बरतें।

सदस्य सचिव ने यह भी जानकारी दी कि अब चंबा जिला के लोकमित्र केंद्रों के माध्यम से भी लोग विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा एंपैनल किए गए अधिवक्ताओं के माध्यम से विधिक सेवा का लाभ उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि जुलाई महीने के लिए इसका बाकायदा शेड्यूल भी तैयार कर लिया गया है। महीने में निश्चित किए गए दिनों के लिए एक अधिवक्ता को संबद्ध किया गया है।

Next Story

हमीरपुर