Top
चंबा

चंबा में हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह

ManMahesh
26 Jan 2021 2:38 PM GMT
चंबा में हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह
x
वन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया ने किया ध्वजारोहण

डलहौज़ी हलचल (चंबा) : चंबा के ऐतिहासिक चौगान में आज 72वां जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ। समारोह की अध्यक्षता करते हुए वन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया ने ध्वजारोहण करके समारोह का शुभारंभ किया और पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी और एनएसएस की टुकड़ियों द्वारा प्रस्तुत मार्च पास्ट की सलामी ली। समारोह में विधायक बिक्रम सिंह जरयाल और पवन नैयर भी मौजूद रहे। मार्च पास्ट का नेतृत्व सब इंस्पेक्टर अर्जुन ने किया।


इस मौके पर अपने संबोधन के दौरान वन मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश देवभूमि के अलावा वीर भूमि के रूप में भी जाना जाता है। यहां के युवा सैन्य और सुरक्षा बलों में सेवा करने के लिए हमेशा तत्पर रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने परमवीर चक्र और अशोक चक्र विजेताओं की वार्षिकी को 3 लाख, महावीर चक्र और कीर्ति चक्र विजेताओं की वार्षिकी को 2 लाख जबकि वीर चक्र और शौर्य चक्र विजेताओं की वार्षिकी को 1 लाख रुपए कर दिया है। राज्य सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए अब युद्ध या अन्य सैन्य ऑपरेशन में शहीद सैनिकों के आश्रितों को 20 लाख की राशि जबकि अपंग हुए सैनिकों को 5 लाख रुपए तक की सहायता मुहैया की जा रही है।


राकेश पठानिया ने सरकार द्वारा कार्यान्वित की जा रही कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री चिकित्सा सहायता कोष गंभीर रोगों से पीड़ितों के लिए बहुत बड़ा मददगार साबित हुआ है। कोष के तहत अब तक प्रदेश के 927 लोगों को 8 करोड़ 11लाख रुपए की वित्तीय मदद दी जा चुकी है। इसके अलावा सरकार द्वारा महत्वपूर्ण सहारा योजना भी शुरू की गई है। योजना के तहत पार्किंसन, कैंसर, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, स्ट्रोक, किडनी फेलियर और टीबी जैसे रोगों से पीड़ित मरीजों को 3 हजार रुपए प्रतिमाह प्रदान किए जा रही हैं। इस योजना में अब तक प्रदेश के 11186 लाभार्थियों ने इस योजना का लाभ उठाया है। जिस पर 13 करोड़ की राशि खर्च की जा चुकी है।


उन्होंने बताया कि प्रदेश ने शिक्षा के क्षेत्र में भी कई आयाम स्थापित किए हैं। वर्ष 2019-20 में शिक्षण संस्थानों की संख्या 15368 तक पहुंच चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत प्रदेश में 1 लाख 36 हजार से अधिक गैस कनेक्शन दिए गए। जबकि प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना में भी 2 लाख 91हजार से अधिक परिवारों को मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं।

चंबा जिला में वन विभाग की योजनाओं को लेकर वन मंत्री ने बताया कि इस वर्ष के अंत तक जिले के 2243.45 हेक्टेयर क्षेत्र को पौधारोपण अभियान के तहत लाया जाएगा और कुल 18 लाख 55 हजार पौधे रोपने का लक्ष्य पूरा होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल की अवधि के दौरान 5423 हेक्टेयर वन भूमि में 45 लाख 44 हजार पौधे लगाए जा चुके हैं। उन्होंने यह भी बताया कि अब तक वन विभाग द्वारा कार्यान्वित विभिन्न योजनाओं और गतिविधियों को पूरा करने में 25 करोड़ 14 लाख रुपए की राशि खर्च की जा चुकी है।


उन्होंने ये भी कहा कि चंबा जिला मुख्यालय पर आधुनिक खेल परिसर के निर्माण के लिए आवश्यक धनराशि मंजूर कर दी गई है और आगामी मार्च महीने से निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा। राकेश पठानिया ने कहा कि डलहौजी स्थित सदर बाजार में बहुउद्देशीय खेल मैदान का निर्माण कार्य अपने अंतिम चरण में है। इसके निर्माण के लिए विभाग द्वारा 1 करोड़ 50 लाख रूपए की धनराशि उपलब्ध करवाई गई है। इसके अलावा अनुसूचित जाति विशेष घटक उप योजना के तहत वर्ष 2019- 20 के दौरान 27 लाख 75 हजार रुपए की राशि खर्च करके जिला में 18 लघु और 2 वृहद खेल मैदानों का निर्माण किया गया।

राकेश पठानिया ने चंबा जिला के अनछुए पर्यटन स्थलों को देश- विदेश के पर्यटकों के लिए रूबरू करवाने पर आधारित "चलो चंबा" अभियान के तहत चंबा आने का संदेश और आमंत्रण देने वाला एक बड़ा गुब्बारा भी हवा में छोड़ा।

राकेश पठानिया ने परेड के अलावा विभिन्न क्षेत्रों और कोविड-19 के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों और अन्य व्यक्तियों को सम्मानित भी किया। उन्होंने वाहन प्रदूषण को कम करने और साइकिलिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से परिवहन विभाग के तत्वावधान में साइकिलिंग के शौकीन युवा निशांत को साइकिल प्रदान की। समारोह में विभिन्न लोक नर्तक दलों की लोक नृत्य प्रस्तुतियों के अलावा प्रेरणा- द इंस्पिरेशन संस्था द्वारा परिवहन विभाग के सौजन्य से सड़क सुरक्षा पर आधारित एक लघु नाटिका भी प्रस्तुत की गई।


इससे पूर्व वन मंत्री ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में भूरी सिंह संग्रहालय द्वारा चंबा जिला के इतिहास को प्रदर्शित करने वाले चित्रों पर आधारित प्रदर्शनी भी शामिल रही। लोक निर्माण विभाग द्वारा भी "चंबा तब और अब" पर आधारित जानकारीपरक प्रदर्शनी स्थापित की गई। पर्यटन विभाग की प्रदर्शनी में भी विशेष तौर से चंबा जिला में मौजूद पर्यटन संभावनाओं और अनछुए पर्यटन स्थलों को लेकर चित्रों के माध्यम से जानकारी साझा की गई।

इस मौके उपायुक्त डीसी राणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस अरुल कुमार, अतिरिक्त उपायुक्त मुकेश रेपसवाल, पदम श्री विजय शर्मा, राज्य योजना बोर्ड सदस्य मनोज चड्ढा, वन अरण्यपाल ओपी सोलंकी,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रमन शर्मा, एसडीएम चंबा शिवम प्रताप सिंह, सहायक आयुक्त रामप्रसाद, जिला पर्यटन विकास अधिकारी विजय कुमार, पंडित जवाहरलाल नेहरू राजकीय मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ रमेश भारती, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेश गुलेरी, आदेशक गृह रक्षा एवं नागरिक सुरक्षा अरविंद चौधरी, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण जीत सिंह ठाकुर, नगर परिषद अध्यक्ष नीलम नैयर, उपाध्यक्ष सीमा कश्यप, जिला भाजपा वरिष्ठ उपाध्यक्ष दिनेश शर्मा, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य जसवीर नागपाल व अन्य पदाधिकारी, पूर्व सैन्य अधिकारी, चंबा नगर परिषद पार्षद और विभिन्न विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे।


Next Story