Top
काँगड़ा

नूरपुर उपमंडल में 34 कोरोना पॉजिटिव मामले आने पर पांच पंचायतें पूरी तरह से सील

संजीव कुमार
17 Aug 2020 11:17 AM GMT
नूरपुर उपमंडल  में 34 कोरोना पॉजिटिव मामले आने पर पांच पंचायतें पूरी तरह से सील
x
उपमंडल के तहत गत रात्रि 34 कोरोना पाजिटिव मामले सामने आने के पश्चात प्रशासन द्वारा पंजाहड़ा सहित चार अन्य पंचायतों आघार, धनेटी, कमनाला तथा जाच्छ को कन्टेनमेंट घोषित करने के साथ-साथ पूरी तरह से सील करने के आदेश जारी किए हैं।

डलहौज़ी हलचल (नूरपुर) संजीव कुमार : उपमंडल के तहत गत रात्रि 34 कोरोना पाजिटिव मामले सामने आने के पश्चात प्रशासन द्वारा पंजाहड़ा सहित चार अन्य पंचायतों आघार, धनेटी, कमनाला तथा जाच्छ को कन्टेनमेंट घोषित करने के साथ-साथ पूरी तरह से सील करने के आदेश जारी किए हैं। एसडीएम डॉ सुरेन्द्र ठाकुर ने आज पुलिस व अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ क्षेत्र का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान नायब तहसीलदार देस राज ठाकुर भी उनके साथ थे।

सुरेन्द्र ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि गत दिनों पंजाहड़ा पंचायत में कोविड-19 के मामले सामने आने के पश्चात इस पंचायत को पहले ही पूरी तरह से सील कर दिया गया था। परन्तु गत एतवार को इस क्षेत्र में एक साथ 34 कोरोना संक्रमण के मामले आने पर प्रशासन द्वारा लोगों की सुरक्षा के दृष्टिगत तथा संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए एहतियातन पांच पंचायतों को कन्टेनमेंट जोन घोषित कर पूरी तरह से सील कर दिया है। इसके अतिरिक्त साथ लगती पांच अन्य पंचायतों सुखार, चरुड़ी, भलेटा, छतरोली सहित भलून पंचायत को बफर जोन में रखा गया है ।

उन्होंने बताया कि सारे एरिया को सील कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन सभी क्षेत्रों में एक जैसा प्रतिबन्ध लागू रहेगा, जिसमें नियमों में किसी भी प्रकार की ढ़ील नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इन क्षेत्रों में आम लोगों तथा वाहनों की आवाजाही पर पूर्ण रोक रहेगी। जबकि मेडिकल इमरजेंसी, मेडिकल सहित आवश्यक सेवाओं में तैनात कर्मचारी तथा लोग विशेष अनुमति पत्र के साथ आवाजाही कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि यह आदेश आगामी 30 अगस्त तक प्रभावी रहेंगे।

एसडीएम ने बताया कि कंटेनमेंट जोन में सभी तरह के निर्माण कार्यों पर भी रोक रहेगी। उन्होंने कहा कि सभी लोग अपने घरों में रहें तथा निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि आदेशों की अवहेलना करने पर कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

उन्होंने यह भी बताया कि इन पंचायतों को सेनिटाइज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि लोगों को इस सुविधा के बारे में जानकारी देने के लिए सभी पंचायतों में विशेष प्रचार वाहन से भी जरूरी सूचना दी जा रही है।


एरिया में चलाया गया एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान

एसडीएम ने बताया कि इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से विशेष एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान चलाया गया है। उन्होंने बताया कि इन पंचायतों में कोविड-19 के मरीजों के संपर्क में आए लोग तुरन्त अपनी सूचना प्रशासन अथवा स्वास्थ्य विभाग को दें। इसके अतिरिक्त इन लोगों के प्रारंभिक संपर्क में आए सभी लोग अपने आप को 14 दिनों तक अपने घरों में आइसोलेट कर लें, ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस क्षेत्र में कोविड-19 के सैंपल जांच हेतु लिए जा रहे हैं।

जसूर बाज़ार भी रहेगा बंद। सब्ज़ी मंडी, मेडिकल शॉप्स, बैंक व कार्यालय रहेंगे खुले

एसडीएम ने बताया कि संक्रमण को फैलने से रोकने एवम लोगों की सुरक्षा के दृष्टिगत प्रशासन द्वारा जसूर बाजार को एहतियातन कुछ समय के लिए बंद कर दिया गया है। जबकि मेडिकल शॉप्स, बैंक व कार्यालय पूरी तरह से खुले रहेंगे। उन्होंने बताया कि कोविड-19 क्षेत्रों में हालात सामान्य होने पर बाज़ार को खोलने पर विचार किया जाएगा। इसके अतिरिक्त जसूर सब्ज़ी मंडी पूरी तरह से खुली रहेगी। लेकिन इस दौरान सब्ज़ी मंडी में सभी लोगों को कोविड-19 के निर्धारित प्रोटोकॉल का विशेष ध्यान रखना होगा।

एसडीएम ने कहा कि पंचायतों में भी सभी लोगों को मास्क अथवा फेस कवर लगाना जरूरी होगा। इसके अतिरिक्त लोगों को आरोग्य सेतु एप्प डाउनलोड करना भी जरूरी होगा।



ये रहे मौजूद

नायब तहसीलदार देस राज ठाकुर, एसआई पीएस जरियाल, पंचायत प्रधान लेख राज शर्मा, उप प्रधान संदीप शर्मा, समाजसेवी याकूब खान, पटवारी संजीव कुमार, संजीव सैन, पंचायत सचिव अजय संतोषी सहित अन्य पंचायत प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

Next Story