Top
काँगड़ा

वन मंत्री ने 7 करोड़ 82 लाख की लागत की दरड़नाला-डमोह सड़क का किया ऑनलाइन भूमि पूजन

ManMahesh
17 Aug 2020 12:33 PM GMT
वन मंत्री ने 7 करोड़ 82 लाख की लागत की दरड़नाला-डमोह सड़क का किया ऑनलाइन  भूमि पूजन
x
जीएमएस भोलठाकरां में 16 लाख के भवन की भी किया ऑनलाइन शिलान्यास। एसडीएम तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने शिलान्यास स्थल पर किया भूमि पूजन।

डलहौज़ी हलचल (नूरपुर) संजीव कुमार :- वन तथा युवा सेवाएं एवम खेल मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि सड़कें विकास की भाग्य रेखाएं हैं तथा ग्रामीण आर्थिकी, विशेष रूप से पहाड़ी राज्यों की समृद्धि के लिए अधोसरंचना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सड़कों तथा पुलों के निर्माण को प्राथमिकता दे रही है तथा ग्रामीण इलाकों में सड़क नेटवर्क को सुदृढ़ करने पर विशेष बल दिया जा रहा है।

उन्होंने यह विचार आज सोमवार को धर्मशाला से नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत डमोह में 7 करोड़ 82 लाख की लागत से बनने वाली 7.40 किलोमीटर लम्बी दरड़नाला-डमोह सड़क का ऑनलाइन भूमि पूजन करने के अवसर पर व्यक्त किए। उन्होंने बताया कि इस सड़क का निर्माण नाबार्ड के तहत किया जाएगा तथा इस पर दो पुलों का भी निर्माण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस सड़क के बनने से झनून, डूहग, खैरियाँ, डमोह, बासा गांवों की लगभग पांच हज़ार आबादी को लाभ पहुंचेगा। वन मंत्री ने आज ही जीएमएस भोलठाकरां में सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत 16 लाख 40 हज़ार रुपये की लागत से बनने वाले स्कूल भवन का भी ऑनलाइन शिलान्यास किया।एसडीएम डॉ सुरेंद्र ठाकुर तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की उपस्थिति में वन मंत्री ने निर्माण स्थलों पर इन दो परियोजनाओं के ऑनलाइन भूमि पूजन किए।

राकेश पठानिया ने कहा कि नूरपुर विधानसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत 30 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली 14 सड़कों का निर्माण कार्य प्रगति पर है। इसके अतिरिक्त नाबार्ड के अंतर्गत 14 करोड़ रुपये के सड़क निर्माण कार्य भी जोरों पर जारी हैं।

वन मंत्री ने कहा कि इसके अतिरिक्त अनुसूचित जाति विशेष घटक योजना के अंतर्गत 2 करोड़ 50 लाख रुपये की राशि सड़कों के निर्माण पर व्यय की जा रही है। उन्होंने कहा कि 1 करोड़ 65 लाख रुपए की लागत से बनने वाली खज्जन से हार सड़क की डीपीआर तैयार करके नाबार्ड को भेज दी गई है, जिसकी मंजूरी की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में 40 किलोमीटर सरफेस टायरिंग की जाएगी, जिसमें से 24 किलोमीटर पर कार्य पूरा किया चुका है, जबकि शेष कार्य बरसात खत्म होने के पश्चात पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न विभाग के अंतर्गत चल रहे विकास कार्यों को पूरा करने में धन की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी । उन्होंने अधिकारियों को सभी कार्यों को निश्चित समयावधि में पूरा करने के साथ-साथ इनकी गुणवत्ता पर भी विशेष ध्यान रखने के भी निर्देश दिए, ताकि निर्माण लागत में बेवजह बढ़ोतरी न हो।

ये रहे मौजूद

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता दिनेश धीमान, एसडीओ एसएस राणा, जेई राजन शर्मा, भाजपा मंडलाध्यक्ष कुलदीप पाठक सहित विभाग के अन्य लोग उपस्थित थे।


Next Story