Top
काँगड़ा

इंडिया मिस टीजीपीसी 2019 की फाइनलिस्ट बनी हिमाचल की इकलौती बेटी

ManMahesh
26 Oct 2020 2:12 PM GMT
इंडिया मिस टीजीपीसी 2019 की फाइनलिस्ट बनी हिमाचल की इकलौती बेटी
x
नैंसी ने युवाओं को सन्देश दिया कि अपने लक्ष्य की तरफ ध्यान दें और जो बनना चाहते हैं उस पर मेहनत व लग्न करें और तब तक न रुकें जब तक मंजिल हासिल न हो जाये।

डलहौज़ी हलचल (ज्वालामुखी) पंकज सोनी : हिमाचल में प्रतिभा की कमी नही और प्रदेश की बेटियां भी किसी से कम नही। इस समय बेटियां हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का जौहर दिखा रही हैं और अपने गांव व शहर का नाम रोशन कर रही हैं। ऐसी ही एक छोटे से क्षेत्र ज्वालामुखी अंब पठियार की रहने वाली नैंसी डडवाल हिमाचल की इकलौती बेटी हैं जो कि इस समय देश के सबसे बड़े ब्यूटी कॉन्टेस्ट इंडिया मिस टीजीपीसी 2019-20 के 9वें सीजन में भाग ले रही हैं और अगले माह इस कांटेस्ट का फिनाले है। इससे पहले नैन्सी मिस कैपिटल ऑफ इंडिया 2019 का खिताब अपने नाम कर चुकी हैं। नैंसी के पिता दिनेश सिंह डडवाल और माता मीना कुमारी जो कि स्कूल प्रिंसिपल हैं बेटी की इस उपलब्धि पर बेहद खुश हैं।

नैंसी ने आज ज्वालामुखी में बताया कि उनका सपना बचपन से ही ब्यूटी क्वीन बनने का था और इसी लिए इस क्षेत्र को चुना अब फेमिना मिस इंडिया तक पहुंच कर अपना बेस्ट देना चाहती हैं। उनका बचपन ज्वालामुखी में ही बीता है और उन्होंने स्नातक लोरेट कॉलेज कथोग से की है। उसके बाद उन्होंने गुड़गांव जाकर अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए ट्रेनिंग ली और कई ऐड फ़िल्म भी किये। उसके बाद मिस कैपिटल 2019 का अवार्ड जीता और अब इंडिया मिस टीजीपीसी 2019-20 के 9वें सीजन की फाइनलिस्ट बनी हैं।यह पहला ऑनलाइन ब्यूटी कॉन्टेस्ट हैं जहाँ देश भर की हजारों मॉडल अपनी अलग पहचान बनाने के लिए हिस्सा लेती हैं और कई प्रकार के राउंड और सवाल जवाबों के बाद यहां तक पहुंचा जाता है।

इसको जीतने के बाद ही कई मॉडल अपना कैरियर और बेहतर बनाती हैं और अपने क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाती हैं। नैंसी ने बताया कि टीजीपीसी 2019-20 का खिताब जीतती हैं तो अपना सपना पूरा करने के लिये और भी अधिक मेहनत करेंगी और फेमिना मिस इंडिया का खिताब भी एक दिन अपने नाम करेंगी। नैंसी ने बताया कि यहाँ तक पहुंचने पर उन्हें बहुत मेहनत करनी पड़ी और माता पिता ने उन्हें हर कदम पर सहयोग किया और हमेशा करेंगे। नैंसी ने युवाओं को सन्देश दिया कि अपने लक्ष्य की तरफ ध्यान दें और जो बनना चाहते हैं उस पर मेहनत व लग्न करें और तब तक न रुकें जब तक मंजिल हासिल न हो जाये।

गौरतलब है कि नैंसी ने मिस कैपिटल 2019 का तीसरा सीजन अपने नाम किया था।इस प्रतियोगिता में 5000 में से केवल 306 प्रतिभागी ऑडिशन के लिए चयनित हुईं थी।नैंसी ने सबको पछाड़ते हुए खिताब जीत लिया था। नैंसी हिमाचल की उभरती हुई मॉडल है जो कि अपने क्षेत्र गांव शहर जिला व प्रदेश का नाम पूरे देश मे रोशन कर रही हैं।





Next Story