Top
काँगड़ा

लेह में शहीद हुए मेजर दीक्षांत थापा को नम आंखों से दी अंतिम विदाई

ManMahesh
1 Sep 2020 7:33 AM GMT
लेह में शहीद हुए मेजर दीक्षांत थापा को नम आंखों से दी अंतिम विदाई
x

डलहौज़ी हलचल (इंदौरा) दिनेश धीमान :- जिला कांगड़ा के इन्दौरा के नजदीकी गांव कन्दरोड़ी के मेजर दीक्षांत थापा का पार्थिव शरीर आज सुबह सैन्य सम्मान सहित उनके पैतृक गाँव पहुंचा तो सम्पूर्ण इलाका भारत माता की जय व मेजर दीक्षांत थापा अमर रहे के नारों से गूंज उठा। मेजर दीक्षांत थापा सेना के मेकेनिकल विंग 6 मैक.के 140 रेजीमेंट में थे व वर्तमान में लद्दाख के लेह में तैनात थे । बीते रविवार जब वह सैन्य टैंक को सिविल गाड़ी में लोड कर रहे थे तो हादसे में उनकी मौत हो गई थी। मेजर थापा अभी मात्र 26 साल के थे । उनकी माता गृहिणी है पिता सेना के मैकनाइज इन्फेंट्री से सेवानिवृत्त है।

इनका छोटा भाई अभी पढ़ाई कर रहा है । उनकी पार्थिव देह हवाई जहाज से मंगलवार सुबह पठानकोट पहुंची। यहां से पार्थिव देह को उनके पैतृक गांव इंदौरा तहसील के कंदरोड़ी के बाड़ी गांव ले जाया गया। यहां पर शहीद का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। देखिये इंदौरा से डलहौज़ी हलचल के लिए दिनेश धीमान की ये रिपोर्ट



Next Story