Top
काँगड़ा

द्रोणाचार्य कॉलेज में नई शिक्षा नीति 2020 पर 29,30 अक्टूबर को राष्ट्रीय वेविनार का आयोजन

ManMahesh
23 Oct 2020 12:44 PM GMT
द्रोणाचार्य कॉलेज में नई शिक्षा नीति 2020 पर 29,30 अक्टूबर  को राष्ट्रीय वेविनार का आयोजन
x
नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को क्रियान्वित करने हेतु जल्द से जल्द पंजीकरण की प्रकिया को पूर्ण कर अपने अनुसंधान पत्रों को ईमेल के माध्यम से प्रेषित करें।

डलहौज़ी हलचल (धर्मशाला) अनिल छांगू : हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के द्रोणाचार्य शिक्षण स्नातकोत्तर महाविद्यालय रैत तथा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार व राजकीय महाविद्यालय जीजीडीएसडी राजपुर पालमपुर के सौजन्य से 29,30 अक्टूबर को नई शिक्षा नीति 2020 विषय पर राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया जाएगा। इस राष्ट्रीय वेबिनार में मुख्यातिथि के रूप में माननीय शिक्षा मंत्री हिमाचल प्रदेश गोबिंद सिंह ठाकुर व प्रो. सिकन्दर कुमार उपकुलपति हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय नई शिक्षा नीति 2020 पर अपने विचारों से अवगत करवाएंगे।

वहीं प्रो. सुनील गुप्ता,अध्यक्ष राज्य उच्च शिक्षा परिषद व भूतपूर्व उपकुलपति हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय तथा प्रो. योगिंद्र सिंह वर्मा,भूतपूर्व उपकुलपति केंद्रीय विश्वविद्यालय हिमाचल प्रदेश मुख्य वक्ता के रूप में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के बारे में विचार रखेंगे।इस राष्ट्रीय वेविनार में तकनीकी सत्र के रूप में प्रो. अरविंद कुमार झा,विभागाध्यक्ष शिक्षा विभाग ,बीबी अम्बेडकर विश्वविद्यालय लखनऊ, प्रो. मनोज सक्सेना, केंद्रीय विश्वविद्यालय धर्मशाला,डॉ शत्रुघ्न भारद्वाज , क्षेत्रीय संयोजक महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार,प्राचार्य एन एन शर्मा ,राजकीय महाविद्यालय ज्वाली,डॉ रितु बक्शी, सह प्रवक्ता, केंद्रीय विश्वविद्यालय, जम्मू,डॉ प्रवीण कुमार शर्मा ,सह प्रवक्ता, द्रोणाचार्य महाविद्यालय ,रैत की भूमिका अदा करेंगे।

साथ ही विशेष अतिथि के रूप में प्रो एस पी बंसल उपकुलपति हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय व डॉ. डबल्यूजी. प्रसन्ना कुमार,अध्यक्ष महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद,डॉ. सुरेश सोनी अध्यक्ष हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला ,प्रो. नैन सिंह विभागाध्यक्ष, शिक्षा विभाग ,हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला, के रूप उपस्थित रहेंगे। इस राष्ट्रीय वेविनार में प्रतिभागियों से अनुसंधान पत्र आमंत्रित किए गए हैं।

वहीं महाविद्यालय के कार्यकारिणी निदेशक डॉ बी एस पठानिया ने दो दिवसीय राष्ट्रीय वेविनार को सफल बनाने के लिए सभी शिक्षा के क्षेत्र में जुड़े शिक्षाविदों के आग्रह किया है कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को क्रियान्वित करने हेतु जल्द से जल्द पंजीकरण की प्रकिया को पूर्ण कर अपने अनुसंधान पत्रों को ईमेल के माध्यम से प्रेषित करें।


Next Story

हमीरपुर