Top
कुल्लू

खेलते खेलते लाइटर से भड़की आग , ढाई साल के बच्चे की दर्दनाक मौत

ManMahesh
12 Sep 2020 12:12 PM GMT
खेलते खेलते लाइटर से भड़की आग , ढाई साल के बच्चे की दर्दनाक मौत
x
भुंतर के पास एक मकान में लगी आग से झुलसे दो मासूम बच्चों में से एक अढ़ाई साल के बच्चे ने दम तोड़ दिया है। जबकि दूसरे 6 वर्षीय बच्चे का इलाज चल रहा है।

डलहौज़ी हलचल (कुल्लू) : भुंतर के पास एक मकान में लगी आग से झुलसे दो मासूम बच्चों में से एक अढ़ाई साल के बच्चे ने दम तोड़ दिया है। जबकि दूसरे 6 वर्षीय बच्चे का इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है की नेपाली मूल के राम बहादुर अपनी पत्नी मीना व दो बच्चों के साथ यहां किराए रह रहे थे । रामबहादुर भुंतर सब्जी मंडी में मजदूरी का काम करता है। घटना लगभग साढ़े पांच बजे की है जब बच्चों की मां दरवाजे को बंद कर कुछ समान लाने के लिए मार्किट चली गई।

दोनों बच्चे घर के अंदर खेल रहे थे । खेलते समय छोटे बच्चे ने लाइटर जलाया जिससे आग लग गई। यह बात बच्चों की मां ने पत्रकारों को अस्पताल कुल्लू में बताई। घटना के समय मंगत राम जो टेलीकॉम विभाग में टेक्नीशियन वहां से गुजर रहे थे । उन्होंने बताया कि अपनी ड्यूटी से छुट्टी के उपरांत यहां से गुजर रहे थे तो एक लड़की ने आवाज लगाई कि इधर मकान में आग लगी हुई है। उन्होने बताया कि मैंने समय न गवाते हुए घर के दरवाजे को तोड़ा अंदर देखा दोनों बच्चे आग की चपेट हैं उन्हें तुरंत बाहर निकाला। मंगतराम ने बताया कि उस समय कमरों की अंदर आग ने प्रचंड रूप धारण कर लिया था।


बच्चों को बाहर निकालने पर आस पड़ोस के लोग सभी इकट्ठे हो गए। आग की चपेट में आने से बड़ा लड़का राजन तो नाम मात्र झुलसा लेकिन उसका छोटा भाई नीरज जो ढाई साल का है उसका छाती के नीचे का हिस्सा, टांगे बाजू, सिर काफी झुलस गए हैं। बच्चे का इलाज क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में चला है। जहां पर एक की मौत हो गई। वहीं समय पर फायर ब्रिगेड भी पहुंच गई और आग को पूरी तरह बुझा दिया गया। लेकिन तब तक घर के अंदर रखा पूरा सामान राख हो गया था। इस घटना में लाखों के नुकसान बताया जा रहा है। वहीं भुंतर पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन में जुट गई है।

Next Story

हमीरपुर