Top
मंडी

बड़ी खबर : हिमाचल के डॉक्टर की कोरोना के चलते चंडीगढ़ में मौत

ManMahesh
20 Sep 2020 6:18 AM GMT
बड़ी खबर : हिमाचल के डॉक्टर की कोरोना के चलते चंडीगढ़ में मौत
x
60 वर्षीय डॉ. बंसल पंजाब के पटियाला जिले के बनूर के रहने वाले थे और नेरचौक मेडिकल कालेज में कार्यरत थे। नेरचौक मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जीवानंद चौहान ने डॉक्टर बंसल की मौत होने की पुष्टि की है।

डलहौज़ी हलचल (मंडी) : श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं कोविड अस्पताल नेरचौक के कम्युनिटी मेडिसिन डिपार्टमेंट के एचओडी डॉ प्रदीप बंसल का कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद चंडीगढ़ में मौत हो गई है। डॉ प्रदीप बंसल हिमाचल प्रदेश के पहले कोरोना वरियर्स डॉक्टर हैं जिनका इस महामारी के चलते मौत हुई है।

लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल मंडी स्थित नेरचौक के सामुदायिक चिकित्सा विभाग (पीएसएम) के अध्यक्ष डॉ. प्रदीप बंसल वेंटीलेटर सपोर्ट पर थे । वह पांच सितंबर को कोरोना संक्रमित आने के बाद आइजीएमसी शिमला में भर्ती किये गए थे जहाँ पर उन्हें हृदयाघात के बाद उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था । 2 दिन पहले ही इन्हें चंडीगढ़ के प्राइवेट हॉस्पिटल आई बी आई में शिफ्ट किया गया था लेकिन इस दौरान रविवार सुबह 10:00 बजे इनकी मौत हो गई है ।

बता दें कि डॉ प्रदीप बंसल की बेटी भी 10 दिन पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के अपने गृह हलके के बगस्याड़ में बतौर मेडिकल अफसर तैनात है और बाड़ा पी एच सी में ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमित हो गई थी और इसके बाद बाप और बेटी दोनों को नेरचौक मेडिकल कॉलेज के आवासीय परिसर में होम आइसोलेशन में रखा गया था। बताया जा रहा है कि डॉक्टर बंसल का परिवार 3 सप्ताह पूर्व पटियाला में अपने परिजनों के घर गए थे और जहां उनके किसी करीबी रिश्तेदार की मृत्यु हुई थी। उसके बाद जब परिवार नेरचौक लौटा तो सैंपल देने के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

60 वर्षीय डॉ. बंसल पंजाब के पटियाला जिले के बनूर के रहने वाले थे और नेरचौक मेडिकल कालेज में कार्यरत थे। नेरचौक मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जीवानंद चौहान ने डॉक्टर बंसल की मौत होने की पुष्टि की है।

Next Story

हमीरपुर