Top
नाहन

बारमूला में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुआ सिरमौर के धारटीधार का जवान

ManMahesh
18 Aug 2020 6:17 AM GMT
बारमूला में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुआ सिरमौर के धारटीधार का जवान
x
देवभूमि हिमाचल के एक और जवान ने अपने देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है । सिरमौर के धारटीधार इलाके का 24 साल का जवान बारमूला में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुआ है।

डलहौज़ी हलचल (सिरमौर) :- देवभूमि हिमाचल के एक और जवान ने अपने देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है । सिरमौर के धारटीधार इलाके का 24 साल का जवान बारमूला में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुआ है। भनेत हल्दवाड़ी पंचायत के शहीद प्रशांत ठाकुर जम्मू कश्मीर के बारामूला में सेना की ग्रैडिनस कंपनी में तैनात थे । सेना की तरफ से शहादत की जानकारी परिजनों को दी गई है। खबर मिलने के बाद से ही पुरे क्षेत्र में इलाके में शोक की लहर दौड़ गई है।

प्रशांत ठाकुर का जन्म सिरमौर के ददाहू के गवाना गांव में हुआ था. 23 सितंबर 2014 को 18 साल की उम्र में भारतीय सेना में भर्ती हुए शहीद प्रशांत ठाकुर ने महज 24 साल की उम्र में ही शहादत पाई है. शहीद प्रशांत ठाकुर के परिवार को सोमवार रात 12:30 बजे के आसपास बेटे के शहीद होने की जानकारी दी गई. बताया कि सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकी हमले में प्रशांत शहीद हो गए । आतंकियों के साथ लोहा लेते हुए जब प्रशांत ठाकुर ने खुद को आंतकवादियों से हुआ घिरा पाया तो उन्होंने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। प्रशांत की आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से मौत हो गई। जानकारी मिली है कि अभी भी आतंकियों के साथ मुठभेड़ जारी है।

उधर, रेणुका के विधायक विनय कुमार ने इस पर गहरा शोक प्रकट किया है। उन्होंने शहीद के परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा को शांति के लिए भगवान से प्रार्थना की। उन्होंने कहा कि देश के लिए प्रशांत ने का बलिदान हमेशा याद रखा जाएगा।

जवान के शहीद होने की पुष्टि डीसी सिरमौर डा. आर.के. परूथी ने की है। बताया जा रहा है कि शहीद का पार्थिव शरीर मंगलवार शाम तक पैतृक गांव पहुंचेगा।

Next Story