Top
शिमला

नरेन्द्र बरागटा ने कोटखाई क्षेत्र में जानी लोगों की समस्याएँ

ManMahesh
23 Feb 2021 1:16 PM GMT
नरेन्द्र बरागटा ने कोटखाई क्षेत्र में जानी लोगों की समस्याएँ
x

डलहौज़ी हलचल (शिमला) : मुख्य सचेतक एवं विधायक जुब्बल-कोटखाई-नावर विधानसभा क्षेत्र नरेन्द्र बरागटा ने आज यहां कोटखाई क्षेत्र में ग्राम पंचायत पनोग, बगाहर व देवरी खनेटी के लोगों की जन समस्याएं सुनने के उपरांत संबोधित करते हुए कहा कि पंचायती राज संस्थाएं ग्रामीण लोकतंत्र की नींव है तथा ग्रामीण विकास में इनका अहम योगदान है। उन्होंने नवनिर्वाचित विभिन्न स्तरों पर पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों को छोटे-छोटे समूह बनाकर प्रशिक्षण प्रदान करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान इन प्रतिनिधियों को सभी विभाग अपने अधीन चल रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी प्रदान करें ताकि प्रतिनिधियों के ज्ञानवर्धन के साथ-साथ स्थानीय जनता को इसका अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

उन्होंने बताया कि वर्तमान प्रदेश सरकार बागवानों एवं किसानों के हितों की रक्षा करने के प्रति कृत संकल्प है तथा सरकार का लक्ष्य उनकी आय वर्ष 2022 तक दोगुनी करने का ध्येय है।

नरेन्द्र बरागटा ने बताया कि पराला मण्डी में 100 करोड़ रुपये की लागत से आधुनिक तकनीक से युक्त प्रोसेसिंग प्लांट, सीए स्टोर एवं ग्रेडिंग पैकिंग सेंटर स्थापित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस आधुनिक परियोजना के निर्मित होने से स्थानीय युवाओं विशेषकर बागवानी से जुडे़ लोगों को इसका अधिक से अधिक लाभ मिलेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री एवं बागवानी मंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने बताया कि इस बागवानी प्रोजेक्ट से क्षेत्र में आर्थिक आय में वृद्धि होगी तथा स्थानीय युवाओं के लिए रोजगार के साधन उपलब्ध होंगे।

उन्होंने उद्यान विभाग के अधिकारियों को क्षेत्र में स्थापित एंटी हिलगनों के समुचित रख-रखाव के आदेश दिए ताकि ओलावृष्टि को प्रभावित कर बागवानों को राहत प्रदान की जा सके।

उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में पब्बर उठाऊ पेयजल योजना से क्षेत्र की 27 पंचायतें एवं 194 गांव की 20 हजार से अधिक की आबादी को लाभ मिलेगा तथा पानी की किल्लत से लोगों को निजात मिलेगी, जिस पर 41 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ग्राओग से घासी गांव के लिए 3 करोड़ से निर्मित पेयजल योजना का कार्य युद्ध स्तर पर करते हुए उसे जल्द पूर्ण करने के अधिकारियों को आदेश दिए ताकि इस क्षेत्र के लोगों को इसका लाभ मिल सके।

उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से क्षेत्र में सड़कों एवं सम्पर्क मार्गों को शीघ्र दुरूस्त करने के आदेश दिए ताकि क्षेत्र में लोगों को बागवानी उत्पाद एवं आवाजाही में बाधा उत्पन्न न हो।

उन्होंने कहा कि जुब्बल-कोटखाई क्षेत्र की 90 प्रतिशत से अधिक सड़कों को वर्ष 2021 के अंत तक पक्का कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोटखाई बसस्टैंड का जल्द उद्घाटन के लिए मुख्यमंत्री से आग्रह करेंगे साथ ही नवनिर्मित विकास भवन का भी उद्घाटन किया जाएगा, जिसमें 12 बड़े विभाग कार्य करेंगे। उन्होंने बताया कि कैंची से घासी गांव सड़क को भी जल्द पक्का कर दिया जाएगा। उन्होंने देवरी-खनेटी क्षेत्र में बस अड्डे व शौचालय निर्माण के लिए क्षेत्र चयनित करने को कहा। उन्होंने कहा कि चयन के तुरन्त पश्चात बस अड्डा व शौचालय का निर्माण कार्य किया जाएगा।

बीडीसी सदस्य पनोग क्यारी स्नेह लता चैहान ने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत करवाया तथा क्षेत्र में हिमाचल पथ परिवहन निगम की बस सेवा को पुनः बहाल करने का आग्रह किया। मुख्य सचेतक ने इनकी समस्याओं का जल्द निवारण करने व बस बहाली का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर उपमण्डलाधिकारी ठियोग सौरव जस्सल, डीएसपी कुलविन्द्र ठाकुर, जुब्बल-कोटखाई-नावर मण्डलाध्यक्ष गोपाल जबाईक, जिला परिषद सदस्य थरोला-कलबोग अनिल काल्टा, राज्य अनुसूचित जाति व जनजाति महामंत्री राजेश डोगरा, खण्ड विकास अधिकारी जुब्बल-कोटखाई कर्ण सिंह, युवा मोर्चा के अध्यक्ष अंकुश चैहान, देवरी खनेटी के प्रधान सतीश बसोली, बघार के प्रधान भुवनेश्वरी, उप-प्रधान चमन पनाईक, पनोग की प्रधान रजनी चैहान, अटल बिहारी वाजपेयी इंजीनियरिंग काॅलेज प्रगति नगर के निदेशक रविन्द्र चैहान व विभिन्न विभागों के अधिकारीगण भी उपस्थित थे।


Next Story