Top
शिमला

नाट्य दलों ने कोविड-19 के निर्धारित मानकों का सख्ती से पालन करने बारे लोगों को किया जागरूक

ManMahesh
23 Feb 2021 1:22 PM GMT
नाट्य दलों ने कोविड-19 के निर्धारित मानकों का सख्ती से पालन करने बारे लोगों को किया जागरूक
x

डलहौज़ी हलचल (शिमला) : सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों, योजनाओं व उपलब्धियों पर आधारित विभिन्न विकास योजनाओं के विशेष प्रचार अभियान के तहत सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा लोक नाट्य दलों के माध्यम से बड़े स्तर पर प्रदेश के सभी क्षेत्रों में कार्यक्रम प्रस्तुत किए जा रहे है, जिसमें वर्तमान सरकार की विकास योजनाओं व उपलब्धियों के अतिरिक्त कोविड-19 के निर्धारित मानकों का सख्ती से पालन करने बारे लोगों को जागरूक करने व नशे से होने वाले नुकसान व बचाव बारे भी विस्तार से जानकारी दी जा रही है।

23 फरवरी से आरम्भ हुए इस विशेष प्रचार अभियान के पहले दिन आज पूजा कला मंच के कलाकारों द्वारा बसन्तपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत थाची व रेवग में, भवगवती सांस्कृतिक मण्डल शंठा दल के कलाकारों द्वारा चैपाल विकास खण्ड की पंचायत देवत व जिकनीपुल में, जयदेव कुर्गण सामाजिक व सांस्कृतिक मंच के कलाकारों द्वारा बसन्तपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत जुन्नी व सुन्नी में, वंदना कला रंगमंच के कलाकारों द्वारा टुटू विकास खण्ड की ग्राम पंचायत रामपुरी व बागी में तथा लोटस वेल्फेयर सोसाईटी शिमला मंच के कलाकारों द्वारा रामपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत शिंगला व नोगली, स्वर साधना कला मंच द्वारा ठियोग विकास खण्ड की ग्राम पंचायत बणी व चयोग, त्रिमूर्ति रंगमंच के कलाकारों द्वारा मशोबरा विकास खण्ड की ग्राम पंचायत पटगेर व भट्टाकुफर तथा जयश्वरी लोक नृत्य कला मंच के कलाकारों द्वारा जुब्बल कोटखाई विकास खण्ड की ग्राम पंचायत गुम्मा व कोटखाई में प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का गीत-संगीत व लोक नाट्य के माध्यम से प्रचार कर लोगों को जागरूक किया।

कलाकारों ने नुक्कड़-नाटक के माध्यम से बताया कि प्रदेश में महिलाओं को संकट की घड़ी में सुरक्षा प्रदान करने की दृष्टि से शक्ति बटन ऐप भी आरम्भ की गई है। इस ऐप को मोबाइल पर 'गूगल प्ले स्टोर' से डाउनलोड किया जा सकता है। इस ऐप के माध्यम से संकट की घड़ी में ऐप का 'लाल बटन' दबाकर पुलिस की सहायता प्राप्त की जा सकती है। शक्ति बटन ऐप की विशेषता है कि यह ऐप इंटरनेट कनेक्टिविटी के बिना भी चलती है।

कलाकारों ने गांव-गांव में, शहर-शहर में यह अभियान चलाना है, छोड़ नशे की बुरी आदतें सबको यह समझाना समूह गान से बताया कि नशाखोरी की प्रवृति व इससे उत्पन्न होने वाली सभी प्रकार की समस्याओं से निपटने तथा इसे जड़ से उखाड़ने के लिए एक विशेष अभियान आरम्भ किया गया है। टोल फ्री नशा निवारण हेल्पलाईन नम्बर 1908 शुरू किया गया, जिसका मुख्य उद्देश्य आम जनता की पहचान गुप्त रखकर उन्हें ड्रग ट्रैफिकर तथा पैडलर की जानकारी सांझा करने के लिए प्रोत्साहित करना और नशा निवारण के लिए परामर्श प्रदान करना है।

इस अवसर पर कलाकारों ने उपस्थित लोगों से कोरोना वायरस बचाव के लिए हाथों को बार-बार धोना, सामाजिक दूरी बनाए रखना तथा मंुह को मास्क से ढक कर रखना आदि नियमों की अनुपालना करने का आग्रह भी किया।

ग्राम पंचायतों के अधिकतर प्रधानों ने सरकार के दिशा-निर्देशानुसार सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा चलाए गए विशेष प्रचार अभियान की सराहना करते हुए कहा कि भविष्य में भी ऐसे कार्यक्रम लगातार जारी रहने चाहिए ताकि सरकार की नीतियों, कार्यक्रमों व विकास योजनाओं का लाभ आम जन मानस के साथ-साथ क्षेत्र के गरीब से गरीब परिवार को भी मिल सके।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत कोटखाई के सचिव अनिल चैहान, ग्राम पंचायत गुम्मा के प्रधान राजेन्द्र, ग्राम पंचायत थाची के उप-प्रधान मनोहर शर्मा, ग्राम पंचायत रेवग के प्रधान परस राम, ग्राम पंचायत देवत के उप-प्रधान रामदत शर्मा, ग्राम पंचायत जिकनीपुल के उप-प्रधान लोकेन्द्र शर्मा, ग्राम पंचायत बणी की प्रधान सीमा देवी, ग्राम पंचायत चियोग के प्रधान दिनेश तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।


Next Story

हमीरपुर