Top
सोलन

टैंक की सफाई में कर रहे मजदूर की दम घुटने से मौत , उद्योग प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज

ManMahesh
23 Sep 2020 1:02 PM GMT
टैंक की सफाई में कर रहे मजदूर की दम घुटने से मौत , उद्योग प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज
x
डीएसपी बद्दी नवदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने उद्योग प्रबंधन के खिलाफ धारा 336 व 304 एक के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है, जबकि मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे परिजनों के हवाले कर दिया है।

डलहौज़ी हलचल (सोलन): बीबीएन में एक उद्योग के वेस्टेज टैंक की सफाई में कर रहे एक मजदूर की दम घुटने से मौत हो गई ,जबकि दो मजदूर बेहोश हो गए। दोनों मजदूरों को निकटवर्ती अस्पताल ले जाया गया, जहां पर उनका उपचार चल रहा है। दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है। उधर पुलिस ने इस मामले में उद्योग प्रबंधन के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

बद्दी के काठा स्थित कारटेक्स मेडिकल इंडस्ट्री में वेस्टेज टैंक की मजदूर सफाई कर रहे थे। इस टैंक में अन्य अपशिष्ट के साथ साथ कैमिकल को भी ठिकाने लगाया जाता था। जिससे बनी गैस ने इन मजदूरों को अपनी चपेट में ले लिया । सौरभ पुत्र विपिन कुमार निवासी गांव चकजोरा तह रजौन जिला बांगता बिहार ने पुलिस को दिए बयान पर बताया कि वह कंपनी में करीब एक साल से ऑपरेटर का काम कर रहा है।

बीते रोज कंपनी के मालिक कमल भारती ने कंपनी में दो व्यक्ति जिनके नाम अंकित व अजय पुत्र सतबीर निवासी दादरी तहसील सरधना जिला मेरठ उत्तर प्रदेश को कंपनी के वेस्टेज टैंक की सफाई के लिए बुलाया था। जिसमें कंपनी के अंदर का केमिकल मुक्त पानी जाता है। जब मजदूर कंपनी एमडी कमल भारती की निगरानी में सफाई कर रहे थे ,तो इसे मैनेजर संजीव कुमार ने बतलाया कि सफाई वाले टैंक में लड़के गिर गए हैं। जिसके बाद यह मौके पर पहुंचे तो पाया कि अंकित नाम का लड़का पानी में बेहोश पड़ा था जबकि अजय वहीं खड़ा था। जिसके बाद यह सब उसे बचाने टैंक में उतर गए, उन्हें बाहर निकालने की कोशिश करने लगे ,लेकिन एक अन्य वर्कर भी अचानक टैंक में बेहोश हो गया । जिसके बाद कंपनी के कर्मचारियों ने इन्हें मल्होत्रा अस्पताल पहुंचाया जहां इनका उपचार चल रहा है। जबकि केमिकल के रिएकशन से बनी गैस की वजह से दम घुटने से कअंकित की मौत हो गई , अजय व सौरभ का अस्पताल में उपचार चल रहा है।

डीएसपी बद्दी नवदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने उद्योग प्रबंधन के खिलाफ धारा 336 व 304 एक के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है, जबकि मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे परिजनों के हवाले कर दिया है।

Next Story