Top
सोलन

अधिक संवेदनशीलता एवं कर्तव्य भावना ही शिकायत निवारण की गारंटी-डाॅ. सैजल

ManMahesh
11 Nov 2020 11:12 AM GMT
अधिक संवेदनशीलता एवं कर्तव्य भावना ही शिकायत निवारण की गारंटी-डाॅ. सैजल
x
बैठक में 33 मदों सहित आज प्रस्तुत कुछ अन्य शिकायतांे पर भी चर्चा की गई



डलहौज़ी हलचल (सोलन) :- स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुर्वेद मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि प्रदेश सरकार के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम जनमंच तथा जिला स्तरीय शिकायत निवारण समिति की बैठक में यह पाया गया है कि अधिकतर शिकायतें दैनिक जीवन से सम्बन्धित होती हैं तथा यदि अधिकारी और अधिक संवेदनशीलता तथा कर्तव्य भावना के साथ कार्य करें तो इन शिकायतों का त्वरित निपटारा सम्भव है। डाॅ. सैजल आज यहां जिला स्तरीय शिकायत निवारण समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड को निर्देश दिए कि वर्ष 2021 तक सोलन जिला में कम वोल्टेज की समस्या का निदान करें। उन्हांेने जिला में विद्युत बोर्ड से सम्बन्धित शिकायतों एवं अपेक्षाओं के निपटारे के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने भारत संचार निगम लिमिटिड को उपभोक्ता मित्र एवं उपभोक्ता हित कार्यप्रणाली अपनाने के निर्देश दिए।

डाॅ. सैजल ने कहा कि आमजन नियमित रूप से अपनी शिकायत के सन्दर्भ में उचित माध्यम पर सूचना देते हैं। किन्तु किन्हीं कारणों से कुछ शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही नहीं हो पाती। उन्होंने कहा कि शीघ्र सुलझने वाली समस्याओं का अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा त्वरित निपटारा भी किया जाना चाहिए। उन्होंने विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों से आग्रह किया कि वे विभागीय स्तर पर प्राप्त शिकायतों की नियमित समीक्षा करें और आमजन के साथ बेहतर संवाद स्थापित करें।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने समिति के गैर सरकारी सदस्यों से आग्रह किया कि इस स्तर की बैठक में सभी उपस्थित रहें ताकि विभिन्न शिकायतों का संतोषजनक निपटारा हो सके। उन्होंने कहा कि बैठक से अनुपस्थित रहकर गैर सरकारी सदस्य आमजन की अपेक्षाओं पर खरा उतरने का अवसर खो रहे हैं।

आयुर्वेद मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिकायतों के निवारण के साथ-साथ विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत कार्यान्वित किए जा रहे कार्यों को निर्धारित समय अवधि में पूर्ण करें ताकि धन और समय की बचत हो सके।

डाॅ. सैजल ने भारत संचार निगम लिमिटिड को जिला के विभिन्न क्षेत्रों में सिग्नल और इंटरनेट कुनैक्शन की समस्याओं के समयबद्ध निपटाने के निर्देश दिए। उन्होंने चम्बाघाट में जिला उद्योग केन्द्र मार्ग के सुधार कार्य को 30 नवम्बर तक पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि कण्डाघाट में सौर ऊर्जा चलित लाईटों को ठीक करने के लिए 30 नवम्बर, 2020 तक कार्यवाही की जाए। इस सम्बन्ध में समन्वय स्थापित करने के लिए उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट को निर्देश दिए। उन्होंने बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ औद्योगिक क्षेत्र मंे विभिन्न इकाईयों द्वारा स्थापित काॅमन एफ्यूलेन्ट ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली सुधारने एवं समीक्षा के लिए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को निर्देश जारी किए।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने जल शक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देश दिए कि चण्डी क्षेत्र में बेहतर सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्राक्कलन के साथ योजना तैयार करें। उन्होंने श्मशानघाट से भारती सम्पर्क मार्ग के सम्बन्ध में तहसीलदार सोलन को उचित निर्देश जारी किए।

बैठक में अवगत करवाया गया कि अर्की उपमण्डल की नेरी प्लाटा उठाऊ पेयजल योजना का कार्य 31 दिसम्बर, 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा।

बैठक में 33 मदों सहित आज प्रस्तुत कुछ अन्य शिकायतांे पर भी चर्चा की गई।

उपायुक्त सोलन केसी चमन ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया और विश्वास दिलाया कि विभिन्न लंबित शिकायतों का समयबद्ध निपटारा किया जाएगा।

अतिरिक्त उपायुक्त एवं समिति के सदस्य सचिव अनुराग चन्द्र शर्मा ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।


Next Story