Top
ऊना

राजकीय सम्मान के साथ हुआ 29 वर्षीय मेजर नीरज शर्मा का अंतिम संस्कार

ManMahesh
13 Sep 2020 11:40 AM GMT
राजकीय सम्मान के साथ हुआ 29 वर्षीय मेजर नीरज शर्मा का अंतिम संस्कार
x

डलहौज़ी हलचल (ऊना): जिला ऊना के बाणदू क्षेत्र के सपूत मेजर नीरज शर्मा आज रविवार को पूरे सैनिक एवं राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हो गए। मेजर नीरज शर्मा की बीकानेर में सड़क दुर्घटना के दौरान मौत हो गई थी। उनका पार्थिव शरीर आज सुबह घर पहुंचा और दोपहर तक उनका अंतिम संस्कार किया गया। उनके साथ आई सैन्य टुकड़ी ने उन्हें सलामी दी। इस अवसर पर प्रदेश सरकार की ओर से स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी।


वहीँ 29 वर्षीय जाबांज बेटे के पार्थिव शरीर को देखने के बाद मां की हालत देखकर वहां उपस्थित सभी लोगों की आंखे भर आईं। मां भी ताबूत पर लेटकर अपने बच्चे को गले लगाती रही और अपने बच्चे को एक बार चूमने के लिए बिलखती रही, जिसे देखकर सभी का सीना पसीज रहा था। जिस मां का 29 वर्षीय बेटा देश के लिए कुर्बान हुआ उसे गर्व तो था पर उसके चले जाने की पीड़ा भी उसके अंतर्मन को झकझोर रही थी।


तिरंगे में लिपटे मेजर नीरज शर्मा के पार्थिव शरीर को पूरे सैनिक सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई और गार्ड ऑफ होनर देने पहुंची टुकड़ी ने 21 राऊंड फायर करके उनको अंतिम सलामी दी। गांववासियों ने मेजर नीरज अमर रहे के नारे लगाकर माहौल देश भक्ति और भावुकता से भर दिया। मेजर के बड़े भाई रोहित जो खुद सेना में मेजर हैं, ने अपने छोटे भाई के पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी।

बता दें कि राजस्थान के जोधासर गांव के पास सड़क पर आई गाय को बचाने के प्रयास में सेना के कमांडिंग ऑफिसर की सफारी गाड़ी पलट गई थी और उसमें सवार सेना के कर्नल मनीष चौहान और मेजर नीरज शर्मा गम्भीर रूप से घायल हो गए थे जिनकी मौत हो गई थी ।




Next Story