Top
ऊना

पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रामनाथ शर्मा, हजारों लोगों ने किये अंतिम दर्शन

ManMahesh
16 Sep 2020 11:55 AM GMT
पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रामनाथ शर्मा, हजारों लोगों ने किये अंतिम दर्शन
x
पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रामनाथ शर्मा का बुधवार को राजकीय सम्मान के साथ बरनोह में अंतिम संस्कार हुआ। पंडित रामनाथ शर्मा के बड़े बेटे विपिन शर्मा ने उन्हें पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी।

डलहौज़ी हलचल (ऊना ): पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रामनाथ शर्मा का बुधवार को राजकीय सम्मान के साथ बरनोह में अंतिम संस्कार हुआ। पंडित रामनाथ शर्मा के बड़े बेटे विपिन शर्मा ने उन्हें पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी। मुखाग्नि देने के दौरान पुलिस की टुकड़ी ने सलामी दी। वहीं कैबिनेट मंत्री वीरेन्द्र कंवर और एसडीएम ऊना सुरेश कुमार ने पार्थिक शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। बता दें कि 76 वर्षीय पंडित रामनाथ शर्मा का मंगलवार सुबह चंडीगढ़ के एक अस्पताल में लंबी बिमारी के चलते निधन हो गया था। इसके उपरान्त दोपहर तक उनके पार्थिक शरीर को उनके घर बरनोह लाया गया था।

इनके निधन की खबर सुनते ही बरनोह में लोगों के आने-जाने का तांता लगा हुआ था। हजारों की संख्या में लोग अपने नेता के आखिरी दर्शन को बरनोह पहुँच रहे थे। इनकी सांसारिक यात्रा में जिला कांग्रेस अध्यक्ष रणजीत राणा, कांग्रेस नेता देशराज मोदगिल, बलदेव कुटलैहडिय़ा, विजय डोगरा, देशराज गौतम, अरूण पटियाल, कर्नल धर्मेन्द्र पटियाल, राम आसरा शर्मा, पंचायत प्रतिनिधि राजेन्द्र मलांगड़, सुरेन्द्र कुमार समेत हजारों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। पंडित रामनाथ शर्मा के निधन से कांग्रेस जगत में शोक की लहर छा गई। इनकी अंतिम यात्रा के उपरांत पर कैबिनेट मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि साधारण परिवार में पले बड़े स्वर्गीय पंडित रामनाथ शर्मा का डिप्टी स्पीकर के पद पर आसीन होना कुटलैहड़ क्षेत्र के लिए गौरव की बात थी। पंडित रामनाथ शर्मा ने क्षेत्र की जनता के विकास के लिए हर समय कार्य किया है। कुटलैहड़ में कांग्रेस को मजबूत करने में इनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि इनके आकस्मिक निधन पर हमें गहरा दुख है। उनके परिवार और स्नेहीजनों के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे। वहीं वीरेन्द्र कंवर पंडित रामनाथ शर्मा के बेटे विवेक शर्मा को पिता के आकस्मिक निधन पर ढ़ांढस बंधाते भी दिखे।

Next Story