Top
धर्म

एक धार्मिक स्थल जहां से मां पार्वती के कहने पर भगवान शिव ने देखा था महाभारत का युद्ध

ManMahesh
17 Aug 2020 3:24 AM GMT
एक धार्मिक स्थल जहां से मां पार्वती के कहने पर भगवान शिव ने देखा था महाभारत का युद्ध
x
देव भूमि हिमाचल प्रदेश वास्तव में ही ऋषि-मुनियों की तपोस्थली रही है। और इस बात को और पुख्ता करती है भुर्शिंग महादेव की कहानी

डलहौज़ी हलचल (पांवटा) अनुराग गुप्ता :- देव भूमि हिमाचल प्रदेश वास्तव में ही ऋषि-मुनियों की तपोस्थली रही है। और इस बात को और पुख्ता करती है भुर्शिंग महादेव की कहानी । जिला सिरमौर में नहान शिमला राजकीय उच्च मार्ग पर सराहा से 9 किलोमीटर दूर गांव पनावा में भूरशिंग महादेव की देवस्थली है। पर्वत शिखर पर समुद्रतल से लगभग 6500 फीट ऊंचाई पर भुर्शिंग महादेव का प्राचीन मंदिर शोभायमान है । यहां से चारों ओर का अति सुंदर दृश्य मन को मनमोहित करता है तथा मन को शांति प्रदान करता हुआ अध्यात्म की ओर ले जाता है।

यहां पर दूर-दूर से भक्त जन व पर्यटक पहुंचते हैं और यहां पर पहुँच कर शिवलिंग के दर्शन करते हैं। कुछ लोग यहां पर यहां की सुंदर वादियों के दृश्य को देखने आते हैं। यह स्थान इतना मनमोहक है कि मानो आप स्वर्ग पर पहुंच गए हो । पुरानी मान्यताओं के अनुसार यहां पर भगवान शिव ने माता पार्वती के कहने पर महाभारत का युद्ध देखा था । तब से यहां पर शिवलिंग की उत्पत्ति मानी जाती है। वहीँ इस स्थान पर दिवाली के बाद आने वाली एकादशी पर्व पर भाई-बहन के मिलन का पर्व भी मनाया जाता है तथा द्वादशी के दिन यहां पर मेले का आयोजन भी किया जाता है।

यह बात सत्य है हिमाचल प्रदेश को ऋषि-मुनियों व देव भूमि कहा जाता है वहीँ यह स्थल इस बात की पुष्टि करता है कि हिमाचल सच में ही ऋषि-मुनियों व देवो की भूमि है।

देखिये ये विडियो






Next Story